S M L

सीमित ओवर में हुई अपनी अनदेखी में ये फायदा देख रहे हैं रहाणे

अजिंक्य रहाणे काफी सकारात्मक खिलाड़ी हैं जो हर फैसले में से सकारात्मक चीज ढूंढ लेते हैं

Bhasha Updated On: May 29, 2018 10:03 AM IST

0
सीमित ओवर में हुई अपनी अनदेखी में ये फायदा देख रहे हैं रहाणे

अजिंक्य रहाणे काफी सकारात्मक खिलाड़ी हैं जो हर फैसले में से सकारात्मक चीज ढूंढ लेते हैं भले ही इसमें उनका भारत की सीमित ओवर की टीम से बाहर किया जाना शामिल हो. रहाणे का मानना है कि ब्रिटेन दौरे में सीमित ओवर के लिए उनकी अनदेखी किए जाने से उन्हें एक अगस्त से इंग्लैंड के खिलाफ शुरू हो रही पांच मैचों की टेस्ट मैचों की सीरीज की तैयारी के लिए ज्यादा समय मिल जाएगा.

रहाणे ने सीएट क्रिकेट पुरस्कार समारोह के मौके पर पत्रकारों से कहा , ‘यह महत्वपूर्ण है कि आपको खुद की तैयारी के लिए समय मिल जाए और स्पष्टता बहुत अहम है क्योंकि तब आप जानते हो कि आप वनडे टीम में नहीं हो और आपको सिर्फ इंग्लैंड में टेस्ट मैच ही खेलने हैं. मुझे अफगानिस्तान टेस्ट के लिए काफी समय मिल जाएगा और इसके बाद इंग्लैंड दौरा होगा.’

रहाणे बोले नहीं हूं हताश

हालांकि अगर वह थोड़े निराश भी होंगे तो वह इस भाव को दर्शाना नहीं चाहते. उन्होंने कहा , ‘नहीं , मैं बिलकुल भी हताश नहीं हूं. सच कहूं तो मैं कह सकता हूं कि यह मेरे लिए प्रेरणादायी है क्योंकि मैं वापसी की कोशिश में जुटा हूं. इस समय मेरा ध्यान टेस्ट क्रिकेट पर लगा है. मेरा अब भी मानना है कि मैं वापसी कर सकता हूं और छोटे प्रारूप में अच्छा कर सकता हूं और विश्व कप (2019) भी आने वाला है.’

रहाणे को लगता है कि पाकिस्तान ने भले ही इंग्लैंड को पहले टेस्ट में साढ़े तीन दिन में हरा दिया हो लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि भारत के लिये चीजें आसान होंगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
International Yoga Day 2018 पर सुनिए Natasha Noel की कविता, I Breathe

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi