S M L

डोप टेस्ट में नाकाम बल्लेबाज शहजाद पर पीसीबी ने लगाया अस्थायी निलंबन

शहजाद को यह बताने के लिए 18 जुलाई तक का समय दिया गया है कि वह 27 जुलाई तक बी नमूने की जांच कराना चाहते हैं या नहीं

FP Staff Updated On: Jul 12, 2018 03:43 PM IST

0
डोप टेस्ट में नाकाम बल्लेबाज शहजाद पर पीसीबी ने लगाया अस्थायी निलंबन

पाकिस्तानी बल्लेबाज अहमद शहजाद को अप्रैल-मई में एक घरेलू टूर्नामेंट के दौरान डोप टेस्ट में नाकाम रहने के कारण गुरुवार को अस्थायी तौर पर निलंबित कर दिया गया. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने एक बयान में कहा कि शहजाद को यह बताने के लिए 18 जुलाई तक का समय दिया गया है कि वह 27 जुलाई तक बी नमूने की जांच कराना चाहते हैं या नहीं.

बोर्ड ने कहा,‘ पीसीबी ने जांच का नतीजा आने पर शहजाद को अस्थायी तौर पर निलंबित कर दिया है.’ मई में फैसलाबाद में पाकिस्तान कप के दौरान लिए गए मूत्र के नमूनों में शहजाद के नमूने में गांजा के अंश पाए गए थे. इसके लिए उन पर चार साल तक का प्रतिबंध लग सकता है. पाकिस्तानी खिलाड़ियों का डोपिंग से पुराना नाता रहा है और यह 26 वर्षीय शहजाद के करियर के लिए करारा झटका है.

शहजाद को 2017 में वेस्टइंडीज दौरे के बाद टेस्ट टीम से बाहर कर दिया गया था और उन्होंने पिछले साल अक्टूबर से कोई वनडे मैच नहीं खेला है. वह पिछले महीने पाकिस्तान की तरफ से दो अंतरराष्ट्रीय मैचों में खेले थे, जिसमें उन्होंने 14 और 24 रन बनाए थे, लेकिन जिम्बाब्वे में टी-20 ट्राइसीरीज में नहीं खेले थे.

पाकिस्तानी क्रिकेटरों का डोपिंग में नाकाम रहने का पुराना इतिहास है. तेज गेंदबाज शोएब अख्तर और मोहम्मद आसिफ को 2006 में प्रतिबंधित पदार्थों के सेवन का दोषी पाया गया था. बाएं हाथ के स्पिनर रजा हसन को 2015 में जबकि हाल में दो अन्य स्पिनरों यासिर शाह और अब्दुर रहमान को भी डोपिंग का दोषी पाया गया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi