S M L

28 फरवरी 1996 : जब केन्या ने किया था विश्व कप इतिहास का सबसे बड़ा उलटफेर

1996 विश्व कप में केन्या ने दो बार की चैंपियन वेस्टइंडीज को 73 रन से दी थी मात

FP Staff Updated On: Feb 28, 2018 05:03 PM IST

0
28 फरवरी 1996 : जब केन्या ने किया था विश्व कप इतिहास का सबसे बड़ा उलटफेर

केन्या को हमेशा क्रिकेट जगत की कमजोर टीमों में शुमार किया जाता रहा है. लेकिन आज से ठीक 22 साल पहले (28 फरवरी, 1996) को इस अफ्रीकी टीम ने विश्व कप इतिहास का सबसे बड़ा उलटफेर किया था. 1996 विश्व कप भारत में खेला गया था. पुणे में खेले गए मैच में केन्या ने दो बार की चैंपियन टीम को 73 रन से परास्त कर क्रिकेट जगत में तहलका मचा दिया था. ये उसकी सबसे यादगार जीतों में से एक मानी जाती है.

केन्याई टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए मुश्किल से 166 रन बना पाई थी. कोर्टनी वाल्श और रोजर हार्पर ने तीन-तीन विकेट चटकाए थे. कर्टली एम्ब्रोस ने दो विकेट अपने नाम किए थे. वेस्टइंडीज जैसी दिग्गज टीम के लिए यह लक्ष्य बहुत आसान था, लेकिन केन्याई गेंदबाजों ने उन्हें 93 रन पर ही ढेर कर बड़ा उलटफेर कर दिया था. केन्या की जीत में रजब अली और मॉरिस ओडुंबे ने अहम भूमिका निभाई. रजब अली और मॉरिस ओडुंबे ने तीन-तीन विकेट हासिल किए.

वेस्टइंडीज की उस टीम में ब्रायन लारा.शिवनारायण चंद्रपॉल, कर्टली एम्ब्रोस और कोर्टनी वाल्श जैसे दिग्गज खिलाड़ी थे, फिर भी उन्हें हार का सामना करना पड़ा था. वेस्टइंडीज को कोई भी बल्लेबाज 20 रन से ज्यादा का स्कोर नहीं बना सका था. ये पहला मौका था जब वेस्टइंडीज की टीम किसी आधिकारिक मैच में एक आईसीसी एसोसिएट टीम से हार गई थी.

(फोटो साभार-स्काई स्पोर्ट्स)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Test Ride: Royal Enfield की दमदार Thunderbird 500X

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi