S M L

69 मेडल@69 कहानियां: भारत के वुशु खिलाड़ियों ने एशियन गेम्स में किया अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन

कहानी 41, 42, 43, 44 : रोशिबिना देवी, संतोष कुमार, सूर्य भानु और नरेंदर ग्रेवाल को सेंडा स्पर्धा के सेमीफाइनल मुकाबलों में हार का सामना करना पड़ा, लेकिन इन्होंने भारत को ब्रॉन्ज दिलाए

Updated On: Sep 11, 2018 11:59 PM IST

FP Staff

0
69 मेडल@69 कहानियां: भारत के वुशु खिलाड़ियों ने एशियन गेम्स में किया अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन
Loading...

18वें एशियन गेम्स में इस बार भारतीय वुशु खिलाड़ियों ने धमाल मचा दिया. नाओरेम रोशिबिना देवी, संतोष कुमार, सूर्य भानु प्रताप सिंह और नरेंदर ग्रेवाल सेंडा स्पर्धा के सेमीफाइनल मुकाबलों में हार गए, लेकिन उन्होंने भारत के लिए चार ब्रॉन्ज मेडल पक्के कर दिए. एशियन गेम्स के इतिहास में भारत का ये अब तक का सर्वश्रेष्ठ  प्रदर्शन है.

भारत ने इससे पहले 2006, 2010 और 2014 एशियन गेम्स की वुशु स्पर्धा में भी हिस्सा लिया था. भारत ने इंचियोन में 2014 खेलों में दो ब्रॉन्ज मेडल जीते थे, जिसमें नरेंदर ग्रेवाल का 60 किग्रा स्पर्धा का पदक भी शामिल था. नरेंदर ग्रेवाल का इस बार का ब्रॉन्ज मेडल एशियन गेम्स का उनका दूसरा पदक है. भारत ने 2006 खेलों में एक ब्रॉन्ज जबकि 2010 खेलों में एक सिल्वर और एक ब्रॉन्ज मेडल जीता था. वुशु को एशियन गेम्स में पहली बार 1990 में शामिल किया गया. एशियाड में भारत ने वुशु में अब तक सात पदक जीते, इनमें छह ब्रॉन्ज मेडल हैं.

भारत की ओर से सबसे पहले रोशिबिना देवी चुनौती के लिए उतरीं, लेकिन उन्हें महिला सेंडा 60 किग्रा सेमीफाइनल में चीन की काइ यिंगयिंग के खिलाफ 0-1 से हार झेलनी पड़ी. संतोष कुमार भी इसके बाद पुरुष सेंडा 56 किग्रा वर्ग में वियतनाम के ट्रोंग गियांग बुई के खिलाफ 0-2 से हार गए. भानु प्रताप सिंह की 60 किग्रा और ग्रेवाल की 65 किग्रा वर्ग में हार के साथ भारतीय खिलाड़ियों का फाइनल में जगह बनाने का सपना टूट गया. भानु प्रताप को इरफान अहानगारियन के खिलाफ 0-2, जबकि ग्रेवाल को उज्बेकिस्तान के अकमल रखिमोव के खिलाफ इसी अंतर से हार का सामना करना पड़ा.

सेंडा स्पर्धा में भारत ने पांच खिलाड़ी उतारे थे, जिनमें से केवल एक को पदक नहीं मिला. पुरुष सेंडा 70 किग्रा वर्ग में प्रदीप कुमार को क्वार्टर फाइनल में पराजय का सामना करना पड़ा.

हालांकि, भारत के चारों खिलाड़ी सेमीफाइनल में हार गए, लेकिन वुशु में सेमीफाइनल में हारने वाले दोनों खिलाड़ियों के बीच कोई मुकाबला नहीं होता, बल्कि दोनों को ब्रॉन्ज मेडल मिलता है. धानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एशियन गेम्स भारतीय वुशु खिलाड़ियों के प्रदर्शन की तारीफ की जिन्होंने चार पदक जीते. उन्होंने चारों खिलाड़ियों को अलग अलग ट्विट कर बधाई दी.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi