S M L

Valentine's Day 2018: ये हैं लिटरेचर की ऑल टाइम हिट प्रेम कहानियां

यहां हम कुछ ऐसी किताबों का जिक्र करने जा रहे हैं, जिनकी याद अच्छी लव स्टोरीज के नाम पर इन किताबों के किरदार और उनकी कहानी के लिए याद आती है

FP Staff Updated On: Feb 14, 2018 05:13 PM IST

0
Valentine's Day 2018: ये हैं लिटरेचर की ऑल टाइम हिट प्रेम कहानियां

आज वैलेंटाइंस डे है. और अगर आप किताबी कीड़ा है तो इस दिन आपके लिए लव स्टोरी बेस्ड किताबों से बेहतर और क्या हो सकता है. यहां हम कुछ ऐसी किताबों का जिक्र करने जा रहे हैं, जिन्हें लिटरेचर की दुनिया में लव स्टोरीज के काफी ऊंचे पायदान पर रखा जाता है. या अच्छी लव स्टोरीज के नाम इस फिल्म के किरदार और उनकी कहानी याद आती है.

इनमें से आपने कुछ पहले ही पढ़ रखी होगी, कुछ आपको पढ़नी चाहिए और कुछ दोबारा भी पढ़ी जा सकती हैं. और आपका पार्टनर किताबी कीड़ा है, तो भी उसे ये किताबें गिफ्ट करके खुश कर सकते हैं.

रोमियो एंड जूलियट

लवर्स का बाइबिल है विलियम शेक्सपियर का ये ट्रेजिक रोमांस प्लेराइट. हर आशिक रोमियो और उसकी आशिकी जूलियट है. मूलत: 1597 में पब्लिश हुआ ये प्लेराइट आज इंग्लिश लिटरेचर के महाग्रंथों में से एक है. इस पर न जाने कितनी फिल्में और थिएटर प्ले बन चुके हैं.

ROMEO-and juliet

द ग्रेट गैट्सबी

एफ स्कॉट फिट्जेरल्ड की ये ट्रेजेडी एक हिस्टॉरिकल फिक्शन तो है ही, साथ में एक लव स्टोरी भी बताती है. 1925 में पब्लिश हुई ये किताब एक क्लासिक है. इसे द ग्रेट अमेरिकन नॉवेल में रखा जाता है. क्योंकि ये किताब जे गैट्सबी और डेजी बुचनन के प्यार के साथ-साथ 20वें दशक के अमेरिकन ड्रीम की कहानी भी कहती है.

TheGreatGatsby

प्राइड एंड प्रेजुडिस

ये उपन्यास 19वीं सदी की बेहतरीन लेखकों में से एक जेन ऑस्टेन की रचनाओं में सबसे ऊपर रखी जाती है. 1813 में पब्लिश हुई इस रोमांटिक ड्रामा को पढ़कर अधिकतर लड़कियां प्यार में पड़ सकती हैं. ऐसा कहा जाता है कि किताब का मेल लीड कैरेक्टर मिस्टर डार्सी अधिकतर लोगों का लिटरेरी क्रश हो सकता है.

pride and prejudice

अ वॉक टू रिमेम्बर

अ वॉक टू रिमेम्बर मॉडर्न डे की लव स्टोरीज में काफी ऊपर है. निकोलस स्पार्क्स की इस बुक का नाम हर उस शख्स को पता होगा, जिसे लव स्टोरीज पढ़ने में इंट्रेस्ट होगा. 1999 में पब्लिश हुई ये राइटर निकोलस स्पार्क्स की इस इस टीनएज लव स्टोरी पर फिल्म भी बन चुकी है, जिसे काफी पसंद किया गया था. और फिल्म को भी वही जगह मिली, जो इस किताब की है.

a walk to remeber

ट्विलाइट

स्टेफनी मेयर की इस बुक सीरीज या इसपर बनी इस फिल्म को भले ही आप नापसंद करते हों, लेकिन आप इस सीरीज की लोकप्रियता को नकार नहीं सकते. 2005 से लेकर 2008 तक पब्लिश हुई इस सीरीज में 4 नॉवेल हैं. ये यंग एडल्ट फिक्शन वैंपायर थीम पर बेस्ड है लेकिन इस सीरीज के दीवानों की कोई कमी नहीं है. इन 4 नॉवेल्स पर 5 फिल्में भी बन चुकी हैं, जो सुपरहिट रही हैं.

-Twilightbook

द फॉल्ट इन ऑवर स्टार्स

अमेरिकन राइटर जॉन ग्रीन की ये इमोशनल लव स्टोरी किसी का भी दिल पिघला दे. उफ! अधिकतर लव स्टोरीज ट्रेजेडी क्यों होती हैं? कैंसर से लड़ रहे दो टीनएज अपनी आखिरी इच्छाएं कैसे पूरी करते हैं और मौत को कैसे स्वीकार करते हैं, इस पर लिखी गई ये लव स्टोरी काफी फेमस है.

9780142424179

लव इन द टाइम ऑफ कॉलेरा

नोबल प्राइज विनर कोलंबियन राइटर गैब्रिएल गार्सिया मार्ख़ेज की ये किताब एक बोल्ड रोमांटिक नॉवेल है. कहानी जवानी के दिनों के चाहत से होकर बुढ़ापे के मैच्योर लव तक का सफर करती है. ये किताब सबसे पहले 1985 में स्पेनिश में छपी थी, बाद में 1988 में इसका इंग्लिश में अनुवाद हुआ.

love in the time of cholera

आई रोट दिस फॉर यू

इएन एस थॉमस की ये किताब इस लिस्ट में सबसे अलग है. कविताओं से भरी ये किताब सबसे पहले 2011 में बिना किसी राइटर के नाम के छपी थी. इसमें बस किसी के नाम कविताएं और न्यूयॉर्क सिटी की जगह-जगह की तस्वीरें थीं. ये कविताएं किसी की याद में लिखी गई सी लगती थीं. ये किताब अपने इस अलग अंदाज के चलते काफी फेमस हो गई, जिसके बाद इसके अगले एडिशन्स में राइटर इएन एस. थॉमस और फोटोग्राफर जॉन एलिस के नाम छापे गए.

i wrote tis for u

गुनाहों का देवता

हिंदी के लेखक धर्मवीर गुनाहों का देवता रचना को हिंदी साहित्य की प्रेम कहानियों में काफी ऊंचा दर्जा मिला हुआ है. 1949 में छपी इस किताब के किरदार सुधा और चंदर की कहानी 50-60 के दशक में बुनी गई थी लेकिन आज भी हर प्यार करने वाला शख्स इन किरदारों से खुद को जोड़ सकता है.

gunahonkadewta

मुझे चांद चाहिए

हिंदी साहित्य में लिखी गई लव स्टोरीज में से एक ये भी ट्रेजिक रोमांस है. इस फिल्म में अपने सपने, प्यार और समाज से लड़ने की कहानी है. लेकिन इस कहानी का रोमांस काफी ट्रैजिक है.

Mujhe_Chand_Chahiye

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
FIRST TAKE: जनभावना पर फांसी की सजा जायज?

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi