S M L

मेरे पिता एक राजनेता थे, मैं एक राजनीतिक औरत हूं, मेरे पिता एक संत थे, मैं नहीं हूं...

ख़ास | FP Staff | Nov 19, 2018 11:59 AM IST
X
1/ 7
इंदिरा गांधी की जयंती के मौके पर जानिए उनके कुछ खास विचार

इंदिरा गांधी की जयंती के मौके पर जानिए उनके कुछ खास विचार

X
2/ 7
'लोग अपने कर्तव्यों को भूल जाते हैं पर अधिकारों को याद रखते हैं'

'लोग अपने कर्तव्यों को भूल जाते हैं पर अधिकारों को याद रखते हैं'

X
3/ 7
'किसी भी देश की ताकत इस बात में होती है कि वह खुद क्या कर सकता है ना कि इस बात में कि वह औरों से क्या उधार ले सकता है'

'किसी भी देश की ताकत इस बात में होती है कि वह खुद क्या कर सकता है ना कि इस बात में कि वह औरों से क्या उधार ले सकता है'

X
4/ 7
शहादत कुछ ख़त्म नहीं करती, वो महज़ शुरुआत है

शहादत कुछ ख़त्म नहीं करती, वो महज़ शुरुआत है

X
5/ 7
'मेरे पिता एक राजनेता थे, मैं एक राजनीतिक औरत हूं, मेरे पिता एक संत थे. मैं नहीं हूं'

'मेरे पिता एक राजनेता थे, मैं एक राजनीतिक औरत हूं, मेरे पिता एक संत थे. मैं नहीं हूं'

X
6/ 7
 'आप कभी भी बंद मुट्ठी से हाथ नहीं मिला सकते, हाथ मिलाने के लिए आपको मुट्ठी खोलनी ही पड़ेगी'

'आप कभी भी बंद मुट्ठी से हाथ नहीं मिला सकते, हाथ मिलाने के लिए आपको मुट्ठी खोलनी ही पड़ेगी'

X
7/ 7
'क्षमा करना वीरों का एक गुण होता है'

'क्षमा करना वीरों का एक गुण होता है'

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी