S M L

ज्यादा ब्लैककॉफी पीते हैं? कहीं साइकोपैथ तो नहीं हैं आप!

ऑस्ट्रिया की यूनिवर्सिटी ऑफ इंसब्रक की नई स्टडी के मुताबिक, जो लोग ब्लैककॉफी पीते हैं उनमें उदास रहने या मनोरोगी होने की प्रवृति ज्यादा रहती है

Updated On: Oct 22, 2018 10:30 PM IST

FP Staff

0
ज्यादा ब्लैककॉफी पीते हैं? कहीं साइकोपैथ तो नहीं हैं आप!
Loading...

हम सबको कॉफी पसंद है. कुछ लोगों को दूध और चीनी के साथ. कुछ बिना चीनी और दूध के ब्लैक कॉफी पीते हैं. अगर आप को ब्लैककॉफी पसंद है तो यह खबर आपके लिए है. एक नई स्टडी में दावा किया गया है कि अगर आपको ब्लैक कॉफी पसंद है तो आपके 'साइकोपैथ'  होने का खतरा ज्यादा है.

टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक, ऑस्ट्रिया की यूनिवर्सिटी ऑफ इंसब्रक की नई स्टडी के मुताबिक, जो लोग ब्लैककॉफी पीते हैं उनमें उदास रहने या मनोरोगी होने की प्रवृति ज्यादा रहती है. इस स्टडी में 1000 युवाओं को शामिल किया गया जिन्हें ब्लैक कॉफी पसंद है. इसके बाद इन लोगों की पर्सानैल्टी टेस्ट किया गया. स्टडी में पाया गया कि इन लोगों में सैडिज्म, अग्रेसन और साइकोपैथी (मनोरोगी) जैसे मामले ज्यादा देखे गए. रिसर्चर को अपनी स्टडी में कड़वा स्वाद और मनोरोग के बीच दिलचस्प संबंध का पता लगाया है.

आखिर क्या है इस स्टडी के मायने?

ऐसा नहीं है कि जिन लोगों को ब्लैक कॉफी पसंद है उन सबके मनोरोगी होने का खतरा है. रिसर्चर का कहना है कि कड़वेपन का स्वाद सबजेक्टिव है. यानी हर किसी के लिए कड़वाहट का पैमाना एकजैसा नहीं होगा. लिहाजा इसका रिजल्ट भी सबके लिए एक जैसा नहीं होगी.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi