S M L

बेगम पारा: एक 'ग्लैमर गर्ल' जिसके हुस्न के सामने बिखर जाता था 'दिलीप कुमार' का स्टारडम

पारा ने दिलीप कुमार के छोटे भाई नासिर खान से निकाह किया था लेकिन पारा की दिलीप से बिल्कुल नहीं बनती थी

Updated On: Dec 09, 2018 12:34 PM IST

Rituraj Tripathi Rituraj Tripathi

0
बेगम पारा: एक 'ग्लैमर गर्ल' जिसके हुस्न के सामने बिखर जाता था 'दिलीप कुमार' का स्टारडम

बॉलीवुड की दुनिया दिलचस्प कहानियों से भरी हुई है. ये कहानी 40-50 के दशक में अपने जलवे बिखेरने वाली अभिनेत्री बेगम पारा की है. यह वह दौर था जब बॉलीवुड में बोल्डनेस की शुरुआत नहीं हुई थी. ऐसे में एक अभिनेत्री ने बोल्ड फोटोशूट करवाकर इंडस्ट्री में खलबली मचा दी थी.

सिनेमाई इतिहास में हुस्न की नुमाइश की यह अनोखी शुरुआत थी. बॉलीवुड की इस ग्लैमर गर्ल को दुनिया बेगम पारा के नाम से याद करती है. 1940-50 के बीच उन्होंने कई फिल्मों में काम किया. आज बेगम पारा की पुण्यतिथि है.

पारा का जन्म ब्रिटिश भारत में पंजाब के झेलम में हुआ था. उनके बचपन का नाम पारा हक था. हालांकि उनका परिवार अलीगढ़ का रहने वाला था. उनके पिता राजस्थान के बीकानेर में चीफ जस्टिस थे इसलिए पारा की परवरिश भी बीकानेर में ही हुई. लेकिन उन्होंने अपनी पढ़ाई अलीगढ़ यूनिवर्सिटी से की.

पारा के फिल्मी करियर की शुरुआत की कहानी भी बड़ी दिलचस्प है. उनके भाई मसरूलाल हक 1930 में अभिनेता बनने के लिए मुंबई गए थे. मुंबई जाकर उन्हें एक बंगाली अभिनेत्री प्रोतिमादास गुप्ता से प्यार हो गया और उन्होंने प्रोतिमा से शादी कर ली. इसके कुछ समय बाद पारा भी मुंबई आ गईं और अपनी भाभी प्रोतिमा के साथ बॉलीवुड की पार्टियों में शिरकत करने लगीं.

यहां कुछ लोगों की नजर उन पर पड़ी और वह पारा के चेहरे से इंप्रेस हो गए और उन्हें बॉलीवुड में काम करने के लिए ऑफर दे दिया. एक ऑफर शशिधर मुखर्जी और देविका रानी ने भी दिया था लेकिन पारा के पिता ने उनसे विनती करते हुए कहा कि वादा करो..तुम लाहौर में कभी काम नहीं करोगी.

दिलीप कुमार के स्टारडम को पारा देती थीं चुनौती, नासिर से किया था निकाह

Begum Para

पारा को पहला ब्रेक 1944 में 'चांद' फिल्म से मिला जिसे पूना में प्रभात स्टूडियो ने बनाया था. पारा को उस दौरान 1500 रुपए महीने मिलते थे. इसके बाद उन्होंने अपनी भाभी के साथ मिलकर 1945 में एक फिल्म बनाई. इस फिल्म का नाम छमिया था. फिल्म ने सफलता के कई मापदंड स्थापित किए.

लेकिन पारा खुद को बतौर अभिनेत्री स्थापित नहीं कर पाई थीं. उन्हें सारे किरदार ग्लैमरस ही मिल रहे थे. लेकिन धीरे-धीरे उन्होंने खुद को बॉलीवुड में स्थापित कर ही लिया. सोहनी माहिवाल, जंजीर, नील कमल, मेंहदी, सुहाग रात और मेहरबानी उनकी यादगार फिल्मों में एक हैं.

1951 में पारा के बोल्ड फोटोशूट ने सिनेमा इंडस्ट्री में एक नई शुरुआत की. इस फोटोशूट में पारा ने सिगरेट के कश लेते हुए बोल्ड फोटो दिए. पारा का यह फोटोशूट लाइफ मैगजीन के लिए हुआ था जिसे प्रसिद्ध फोटोग्राफर जेम्स बुर्के ने शूट किया था. उस दौरान पारा के घर के किस्से भी खूब फेमस हुए थे.

बॉलीवुड की धड़कन कहे जाने वाले अभिनेता दिलीप कुमार और बेगम पारा की आपस में बिल्कुल नहीं बनती थी. पारा ने दिलीप के छोटे भाई नासिर खान से निकाह किया था लेकिन मीडिया रिपोर्ट में कई बार सामने आया कि पारा अपने जेठ दिलीप कुमार के स्टारडम को यह कहकर चुनौती देती थीं..अगर वो दिलीप कुमार हैं तो मैं भी बेगम पारा हूं.

पारा के पति का 1974 में निधन हो गया था जिसके बाद वह 1975 में पाकिस्तान चली गईं लेकिन 2 साल बाद वह वापस भारत आ गईं और बॉलीवुड में एक बार फिर हाथ आजमाने की कोशिश करने लगीं. उन्होंने आखिरी फिल्म 2007 में 'सांवरिया' की थी.फिल्म में वह सोनम कपूर की दादी बनी थीं. इसके बाद वह किसी फिल्म में नजर नहीं आईं क्योंकि 2008 में पारा इस दुनिया को अलविदा कह गईं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi