S M L

आजादी से पहले विज्ञापन: टैगोर का बॉर्नवीटा, लक्ष्मी जी वाला पियर्स

1947 से पहले ऐसे कई विज्ञापन सामने आए जो भले ही उतने रंग-बिरंगे न हों पर दिलचस्प बहुत थे.

Updated On: Jan 21, 2018 05:40 PM IST

Aditi Sharma

0
आजादी से पहले विज्ञापन: टैगोर का बॉर्नवीटा, लक्ष्मी जी वाला पियर्स

क्या आपने कभी सोचा है कि देश की आजादी के पहले के विज्ञापन कैसे दिखते थे? क्या उस समय के विज्ञापनों में ब्रिटिश सरकार की ही छवि दिखती थी या कुछ अलग होता था. उस समय के विज्ञापन भले ही आज की तरह न हों पर दिलचस्प बहुत थे. उस समय प्रिंट मीडिया का दौर था. विज्ञापनों में इंफोग्राफिक होन से ज्यादा टेक्स्ट लिखा जाता था और रंगीन की जगह ब्लैक इन वाईट स्याही का इस्तेमाल ज्यादा होता  था.

1989 में कपिल देव और सचिन तेंदुलकर का साथ में बूस्ट को लेकर एक विज्ञापन आया था. काफी लोग इस विज्ञापन को इस कैटेगरी के प्रोडक्ट का पहला विज्ञापन मानते हैं. पर ऐसा नही है. इससे पहले भी इसी कैटेगरी के एक प्रोडक्ट का विज्ञापन सामने आ चुका है और वो है बॉर्नविटा का विज्ञापन. इस ऐड में और कोई नहीं बल्कि खुद रवीन्द्रनाथ टेगौर नजर आए थे. इस कैटेगरी के प्रोडक्ट का किया हुआ ये पहला ऐड था.

rabindranath tagore

कुछ ऐसा दिखता  टेगौर का किया हुआ बॉर्न विटा का ऐड.

रविन्द्रनाथ टैगोर इसके अलावा भी कई सारे विज्ञापनों में नजर आ चुके थे पर उनके सारे विज्ञापनों में एक चीज खास थी. रविन्द्रनाथ टैगोर ज्यादातर हिन्दुस्तानी प्रोडक्टस का ही विज्ञापन करते नजर आते थे. मिसाल के तौर पर ये विज्ञापन देखिए.

rabindranath tagore 1

इस गोदरेज वेजिटेबल टॉयलेट सोप के विज्ञापन में रवीन्द्रनाथ टेगौर का एक स्टेटमेंट दिया हुआ है जिसमें वो कहते नजर आ रहे हैं कि मुझे गोदरेज साबुन जितना अच्छा किसी विदेशी साबुन के बारे में नहीं पता.

लक्स की ताजगी

leela chitnis

अब बाकी विन्टेज विज्ञापनों की बात करते हैं. 1941 में लक्स का पहला विज्ञापन सामने आया था जिसमे उस समय की मशहूर बॉलीवुड अदाकारा लीला चिटनिस को फीचर किया गया था.तब लीला चिटनिस के लक्स का प्रचार करने की वजह से इस ब्रांड को खूब सफलता मिली.

इसके बाद हेलेन से लेकर रेखा तक कई और अभिनेत्री लक्स के विज्ञापनों में नजर आईं लेकिन अब तक केवल अभिषेक बच्चन और शाहरूख खान ही ऐसे अकेले दो मेल एक्टर हैं जो लक्स के विज्ञापन में नजर आए है.

आज़ादी की चाय

TEA AD

हिन्दुस्तान टाइम्स में छपा चाय का ये विज्ञापन साल 1940 में आया था. यह वो वक्त था जब स्वतंत्रता संग्राम अपने चरम पर था. उस वक्त लोगों को विदेश प्रोडक्ट के बदले हिन्दुस्तानी प्रोडक्ट इस्तेमाल करने के लिए कहा जाने लगा. इस अभियान में विज्ञापन बनाने वालों ने भी बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया और लोगों  को यह संदेश पहुंचाने में अपनी जान लगा दी. अब इस विज्ञापन को ही देख लीजिए इस में भी लोगों को हिन्दुस्तानी चाय पीने की सलाह दी जा रही है ताकि वो अपनी कमजोरी दूर भगाकर स्वतंत्रता संग्राम में हिस्सा ले सकें.

मैसूर संदल सोप

soap

मैसूर का सबसे ज्यादा बिकने वाले संदल साबुन का ये ऐड साल 1930 में आया था. संदल साबुन की खास बात थी इसमें इस्तेमाल होने वाली चीजें. ये दुनिया का एकमात्र ऐसा साबुन हैं जिसमें 100 % शुद्ध चंदन तेल का इस्तेमाल किया जाता है.

ब्रुक बॉन्ड

brook bond (1)

अब जरा ब्रुक बॉन्ड चाय के इस ऐड पर भी नजर दिजिए. ये ऐड द हिंदू अखबार में साल 1946 में छपा था. इस ऐड की  खास बात थी इसका बैकड्रॉप जो आसानी से मध्यम वर्ग के लोगों को अपनी ओर आकर्षित करता था.

प्लाई माउथ

car

प्लाई माउथ नाम की ये कार वैसे तो अमेरिका में 1928 में आई थी पर भारत में इसका पहला विज्ञापन साल 1940 में छपा. कम कीमत की ये कार मध्यम वर्ग के लोगों के लिए मानी जा रही थी. 2001 में इस ब्रांड को मार्केट से वापस ले लिया गया.

बुलेट का स्वैग

royal

ऐसे कई विज्ञापन उस दौर में आए जो जितना लोगों के लिए नए थे उतना ही अपनी ओर आकर्षित करते थे जैसे की रॉयल एन्फिल्ड का ये ऐड देखिए जिसने बड़े पैमाने पर युवाओं को अपनी ओर आकर्षित किया.

लक्ष्मी जी वाला पियर्स

1929 में आया पियर्स साबुन का ये विज्ञापन जितना कलात्मक था उतना ही दिलचस्प भी. इस विज्ञापन में साबुन की तुलना सीधी-सीधी लक्ष्मी जी के कमल के फूल से ही कर दी गई थी.

pears ad

स्टीम नेवीगेशन का steam navigation

ये विज्ञापन 1930 में आया था.

जूतों में बाटा

bata

बाटा का ये विज्ञापन उस समय के बाकी विज्ञापनों से थोड़ा अलग था. वजह थी इसकी प्रेजेंटेशन का तरीका. बाकी विज्ञापनों की तरह इसमे कुछ खास जानकारी नहीं दी गई थी बस कंपनी के नाम के साथ जूतों के तस्वीर लगा दी गई थी.

कॉन्डम का ऐड

birth

1930 में आया बर्थ कंट्रोलर का ये ऐड वॉशेबल कॉन्डम के नाम से मशहूर हुआ था. उस समय इसका दाम 5 रुपए प्रति दर्जन था, जो काफी महंगा था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi