S M L

जब यूजर ने सुषमा के पति से कहा- 'आज जब वो घर आएं तो उन्हें पीटना'

एक यूजर ने सुषमा के पति स्वराज कौशल को ट्वीट कर बीजेपी और विदेश मंत्री पर मुस्लिमों के तुष्टिकरण का आरोप लगाते हुए कौशल से कहा कि शाम को जब सुषमा घर आएं तो उनकी पिटाई कर उन्हें समझाएं

Bhasha Updated On: Jun 30, 2018 09:06 PM IST

0
जब यूजर ने सुषमा के पति से कहा- 'आज जब वो घर आएं तो उन्हें पीटना'

पासपोर्ट विवाद को लेकर ट्विटर पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को ट्रोल करने का सिलसिला थम नहीं रहा है. शनिवार को एक यूजर ने सुषमा के पति स्वराज कौशल को ट्वीट कर बीजेपी और विदेश मंत्री पर मुस्लिमों के तुष्टिकरण का आरोप लगाते हुए कौशल से कहा कि शाम को जब सुषमा घर आएं तो उनकी पिटाई कर उन्हें समझाएं.

स्वराज कौशल ने एक ट्वीट का स्क्रीनशॉट पोस्ट किया जिसमें लिखा था, 'आज रात जब वह घर आएं तो आप उन्‍हें पीटें और समझाएं कि मुस्लिम तुष्‍टीकरण न करें. उन्‍हें बताएं कि मुसलमान बीजेपी को कभी वोट नहीं देगा.'

विदेश मंत्री ने भी स्वराज के इस ट्वीट को लाइक किया है. वहीं मुकेश गुप्ता नाम के इस शख्स के एक और ट्वीट को लाइक किया है. इस ट्वीट में उसने लिखा, 'किसी न किसी को सुषमा को सीधा करना होगा. उन्हें यकीन दिलाना होगा कि मुसलमान बीजेपी को वोट नहीं करेंगे. गवर्नर यह केवल आप कर सकते हैं. आगे बढ़ो, उन्हें फिक्स करो. करोड़ों भारतीयों की दुआ लगेगी.'

पहले भी ट्रोल हो चुकीं हैं सुषमा

इससे कुछ ही दिन पहले सुषमा को पासपोर्ट जारी करने को लेकर विवाद के सिलसिले में ट्रोल किया गया था. यह पासपोर्ट मुस्लिम शख्‍स से विवाह करने वाली तन्वी सेठ को जारी किया था. इस दंपति ने लखनऊ के पासपोर्ट सेवा केन्द्र में कार्यरत विकास मिश्रा पर उन्हें पासपोर्ट आवेदन को लेकर अपमानित करने का आरोप लगाया था. विवाद के बाद मिश्रा का ट्रांसफर कर दिया गया.

इस दंपति ने दावा किया कि मिश्रा ने महिला के पति से कहा कि वह हिंदू धर्म अपना ले. अधिकारी पर यह भी आरोप लगाया कि उसने महिला को एक मुस्लिम से विवाह करने को लेकर आड़े हाथ लिया. बाद में पुलिस एवं एलआईयू (स्थानीय खुफिया इकाई) की रिपोर्ट में पाया गया कि महिला ने जो पता दिया था, वह उस जगह पिछले एक साल से नहीं रह रही थी.

सोशल मीडिया के एक वर्ग ने मिश्रा के खिलाफ कार्रवाई के लिए सुषमा एवं मंत्रालय पर हमला बोला और कहा कि वह तो महज अपनी ड्यूटी कर रहा था. इस बारे में जो भी ट्वीट किये गये, उनमें से कई को सुषमा ने फिर से ट्वीट किया.

यह पूछे जाने पर कि क्या मंत्रालय ट्रोल करने वालों के खिलाफ किसी कार्रवाई पर विचार कर रहा है, विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा, ‘विदेश मंत्रालय ने इस प्रकार के दुर्भावनापूर्ण ट्वीट और ट्रोल करने का अपने तरीके से जवाब दिया था. मुझे नहीं लगता कि मेरे पास इस बारे में कहने के लिए कुछ और है.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi