S M L

एक फोन से एक आदमी ने पूरे लंदन और मीडिया को बेवकूफ बना दिया

जिस जगह को लंदन शहर का कल्चरल पॉइंट बता दिया गया वो है ही नहीं

FP Staff Updated On: Jan 24, 2018 03:24 PM IST

0
एक फोन से एक आदमी ने पूरे लंदन और मीडिया को बेवकूफ बना दिया

एक आदमी ने पूरे लंदन शहर को बेवकूफ बना दिया. अपनी हंसी करवानेवालो में कई लेखक, फूड ब्लॉगर, बड़े-बड़े लोग, वेबसाइट्स और दुनिया भर में ट्रैवलर्स के लिए सबसे भरोसे मंद मानी जानी वाली वेबसाइट ट्रिप एडवाइज़र शामिल है.

वाइस.कॉम के मुताबिक एक शख्स ने शेड एट डलविच नाम का एक फर्जी रेस्ट्रॉ खोला. ट्रिप एडवाइज़र पर इसके बारे में लिखा. इसके नाम से एक फोन कनेक्शन लिया और बस. खाने की ये जगह कहीं थी ही नहीं. मजेदार बात ये है कि इस शख्स को खाना बनाना भी नहीं आता.

इस आदमी ने इसके बाद खाने की तस्वीरें डालना शुरू किया. और ये खाना नकली था. शेविंग क्रीम, पेंट और हार्पिक जैसी चीज़ों से उसने खाने जैसी दिखने वाली चीज़ों की तस्वीर खींची और पोस्ट की. कुछ एक दोस्तों को मिलाया. सबने लिखना शुरू किया कि ये सबसे बेहतर खाने का एक्सपीरिएंस है. धीरे धीरे उसकी रैंकिंग बेहतर होने लगी. होटल के बारे में लिखा गया था कि इसमें सिर्फ इनविटेशन पर खाने का मौका मिलता है. लोग फोन करते और वो कहता कि अभी सारी टेबल बुक हैं. कुछ दिन बाद और फेक रिव्यू डाले जाते.

ये असली खाना नहीं टॉयलेट क्लीनिंग टैबलेट और शेविंग क्रीम फोम है

ये असली खाना नहीं टॉयलेट क्लीनिंग टैबलेट और शेविंग क्रीम फोम है

7 महीने में ही शेड को लंदन के नंबर एक रेस्ट्रॉ का दर्जा मिल गया. लंदन में 18,000 खाने के रजिस्टर्ड रेस्ट्रॉ हैं. इनमें से कई दुनिया में जाने जाते हैं. इसके बाद शेड को कम दाम में बेहतर जगह के ऑफर मिलने लगे. कंपनियां खाने का सामान बतौर सैंपल भेजने लगीं. फ्लाइट्स में उसका वीडियो चलाने की बात होने लगी. फूड ब्लॉगर्स और वेबसाइट्स उसके खाने पर स्टोरी लिखने लगे. इसके बाद इस शख्स ने कुछ ब्लॉगर्स को बुलाया.

इन सबकी आंखों पर पट्टी बांध कर सड़क से एक पुरानी गली से होते हुए एक घर से पीछे ले जाया गया. घर के पीछे के कबाड़ को नैचुरल लुक बताकर कुछ एक चीज़ों और फेक एक्टर्स के साथ एक क्लासी रेस्ट्रॉ बता दिया गया. दुनिया भर में घूमने वाले इन फूड क्रिटिक्स को फ्रोजन फूड माइक्रोवेव में गर्म कर खिला दिया गया. इन लोगों को तब भी समझ नहीं आया कि कुछ गड़बड़ है. सबने कहा कि ये जबरदस्त जगह है. वो दुबारा आना चाहेंगे.

इसके बाद इस शख्स ने सच्चाई बता दी. तब से सब सन्नाटे में हैं. ट्रिप एडवाइज़र ने इसके बाद एक चलताऊ सी प्रतिक्रिया दी है. ये घटना बताती है कि हम कैसे अपने दिमाग का इस्तेमाल कम करते हुए ऑनलाइन चीज़ों पर कुछ ज्यादा ही भरोसा करते जा रहे हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi