S M L

एल्फिन्स्टन भगदड़: सोशल साइट्स पर ‘गाय’ से लेकर ‘वास्कोडिगामा और कोलंबस’ क्यों याद आए?

सरकार ने खानापूर्ति के नाम पर मुंबई हादसे में मरने वालों को 10 लाख रुपए मुआवजा देने का एलान किया है

Updated On: Sep 29, 2017 09:58 PM IST

Ravishankar Singh Ravishankar Singh

0
एल्फिन्स्टन भगदड़: सोशल साइट्स पर ‘गाय’ से लेकर ‘वास्कोडिगामा और कोलंबस’ क्यों याद आए?

मुंबई के एलफिंस्टन रेलवे स्टेशन के फुट ओवरब्रिज पर भगदड़ मचने से 22 लोगों की मौत हो गई है, जबकि लगभग 50 लोग घायल बताए जा रहे हैं. इस घटना के बाद से ही सोशल मीडिया पर भी सरकार के पक्ष और विपक्ष में ट्वीट्स की बरसात हो रही है.

आम जनता से लेकर नेता और सोशल साइट पर हमेशा एक्टिव रहने वाले लोग अजब-गजब ट्वीट कर रहे हैं. जहां इस घटना पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने दुख जताया है, वहीं कुछ ऐसे भी लोग हैं जिन्होंने सरकार को अपने ट्वीट से घेरा है.

आम आदमी पार्टी के नेता कुमार विश्वास ने ट्वीट किया है, ‘अजीब वास्कोडिगामा है, हर नाकामी का दोष पिछले कोलम्बसों पर थोप देता है. भाई आपको क्या लहर गिनने के लिए पतवार दी है देश ने? हद्द है थेथरई की..

वहीं देश के पूर्व रेल मंत्री और आरजेडी नेता लालू प्रसाद यादव ने ट्वीट किया है, ‘मोदी सरकार ने रेलवे जैसे दुधारू गौमाता को ना को ठीक से दुहा और न ही उसकी सेवा सुश्रूषा की है जिससे यह तंदुरुस्त दुधारू गाय बीमार हो गई है.’

कांग्रेस विचारधारा को सपोर्ट करने वाले तहसीन पुनावाला ने ट्वीट किया है, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पार्टी के लोग इस मुद्दे पर भी या तो पाकिस्तान को नहीं तो फिर कांग्रेस के 60 सालों के शासन या फिर नक्सलियों को जिम्मेदार ठहराने का काम करेंगे.’

पटना साहिब से बीजेपी सांसद शत्रुध्न सिन्हा की एक्ट्रेस बेटी सोनाक्षी सिन्हा ने ट्वीट किया है, मुंबई तुम मुझे मार रही हो. एक शहर जो सबसे ज्यादा टैक्स देती है. बुनियादी सुविधा के नाम पर क्या मिला? शर्मनाक श्रद्धांजलि.’

कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्वीट किया है, ‘चाहे कुपोषण हो, नवजातों का स्वास्थ्य हो या आमजन से जुड़ी कोई समस्या, इस असंवेदनशील सरकार को कोई फर्क नहीं पड़ता. अत्यंत शर्मनाक.’

महाराष्ट्र के पूर्व सीएम अशोक चव्हाण ने कहा है, 'ऐसी घटनाओं की वजह से सरकार बदनाम हो चुकी है, लोग परेशान हैं.'

सहयोगियों ने भी किए हमले

वहीं एनडीए की सहयोगी दल शिवसेना के नेता संजय राउत ने कहा है, ‘सरकार के ऊपर सदोष मनुष्यवध का एफआईआर दर्ज किया जाना चाहिए और रेलवे मंत्रालय पर मुकदमा चलना चाहिए.’

सरकार ने खानापूर्ति के नाम पर मुंबई हादसे में मरने वालों को 10 लाख रुपए मुआवजा देने का एलान किया है. साथ ही 5 लाख रुपए राज्य सरकार की ओर से और 5 लाख रुपए रेलवे की ओर से दिए जाने का एलान किया गया है. इसके अलावा रेल मंत्री ने गंभीर रूप से घायल लोगों को 1 लाख रुपए और मामूली रूप से घायल लोगों को 50 हजार रुपए देने का एलान किया है.

देश के कई नेता, मंत्री और फिल्म से जुड़े कलाकारों ने भगदड़ में मारे गए लोगों के प्रति गहरी संवेदना जताई है. इसके साथ ही आम आदमी लगातार इस घटना पर सोशल साइट्स पर कमेंट्स लिख रहे हैं और सिस्टम पर सवाल खड़ा कर रहे हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi