S M L

क्विक शॉट: पाक ने श्रीलंका को, श्रीलंका ने भारत को, भारत ने पाक को, ये क्या है भाई?

देश-दुनिया की हर हलचल पर आलोक पुराणिक की टेढ़ी नजर.

Updated On: Jun 13, 2017 11:10 AM IST

Alok Puranik Alok Puranik
लेखक आर्थिक पत्रकार हैं और दिल्ली विश्वविद्यालय में कामर्स के एसोसिएट प्रोफेसर हैं

0
क्विक शॉट: पाक ने श्रीलंका को, श्रीलंका ने भारत को, भारत ने पाक को, ये क्या है भाई?

(क्विक शॉट ताजातरीन खबरों पर व्यंग्यकार आलोक पुराणिक का व्यंग्य है. इसे हल्के-फुल्के अंदाज में लें)

#PAKvSL

डर के आगे जीत है

डरी हुई पाक टीम श्रीलंका के साथ बेहतर खेल के जीती, क्योंकि उन्हें बता दिया गया कि जब तक खेल चल रहा है, आप बाहर हो, चैंपियन ट्रॉफी से बाहर होते ही पूरी पाक टीम को लंदन पुलिस अंदर करेगी- लंदन धमाकों के सिलसिले में. लंदन धमाकों में पाक का हाथ होने के बाद लंदन स्थित हर पाकिस्तानी देर-सबेर अंदर होगा.

#PAKvSL

जनता की मांग पर हारे

इंडिया को हरानेवाली श्रीलंका की टीम पाक से हारी, जनता की मांग पर. स्टेडियम खाली जा रहे थे, श्रीलंका वाले देखने नहीं आते- पाक जैसे घटिया मुल्क से जीते तो क्या जीते. पाक वाले देखने नहीं आते कि लंदन धमाकों में पाकिस्तानी के हाथ के बाद हर पाकिस्तानी की धरपकड़ चल रही है. अब एक और इंडिया-पाक मैच की संभावना है, स्टेडियम भरेंगे.

#PAKvSL

रुकी हुई किरपा

मल्लब पाक ने श्रीलंका को हरा दिया- जी. पर इसी श्रीलंका ने भारत को बहुत बुरी तरह धोया था- जी. पर यही भारत तो पाक को भौत बुरी तरह पीट चुका है- जी. तो मल्लब ये हो क्या रहा है. जी दिमाग का दही ना करें, सिंपल समझें जो टीम जीत रही है, वह अपनी रुकी किरपा निर्मल बाबा से खुलवा कर आ रही है.

#PAKvSL

चोर-चोर की रौनक

पाक-श्रीलंका मैच में स्टेडियम इतना खाली था कि लंदन में क्रिकेट अधिकारियों ने विजय माल्या से निवेदन किया कि आप हर मैच में आया करो कुछ नहीं तो चोर-चोर की रौनक तो लगी रहेगी हर मैच में.

#JusticeKarnan

फरारी और रिटायरमेंट

जस्टिस कर्णन फरारी में ही रिटायर हो गये. कांग्रेस और बीसीसीआई में कई हैं, जो रिटायरमेंट के बाद भी फरार ना होते और यही समस्या की जड़ है.

#pminmolino

पीएम मोलिनो में

विदेश यात्राओं से वापस पीएम मोलिनो जायेंगे. मोलिनो, जी पीएम को यही बताया गया और वह इसे नया देश समझकर खट से तैयार हो गये. मोलिनो बनारस का पुराना नाम है, शंख जातक में.

#NationalHeraldLive

नेशनल हेरल्ड के जमाने के

1938 में स्थापित कांग्रेसी अखबार नेशनल हेराल्ड फिर से, कांग्रेस में पुराने नेशनल हेराल्ड के जमाने के कई नेताओं को भी उम्मीद बंधीं कि उन्हे भी दोबारा कोई पोस्ट देकर चालू किया जायेगा.

#NationalHeraldLive

बिलकुल अपने वक्त का अखबार

1938 में स्थापित कांग्रेसी अखबार नेशनल हेराल्ड मोतीलाल वोराजी समेत कई बुजुर्ग कांग्रेसियों को एकदम अपने ही वक्त का अखबार लगता है.

#SadakKaGunda

कुछ दिन बाद मंत्री

आजादी से पहले का नेशनल हेराल्ड, जनरल डायर, सरकार पर हमले-इस सबसे संदीप दीक्षित को लगता है कि वह 1940 में हैं और अब कुछ दिनों में कांग्रेस प्रधानमंत्री के साथ मंत्री बनेंगे।

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi