S M L

क्विक शॉट: दादा, बेटे और पोते की लड़ाई, फाइनल का मैच घर की कहानी

देश-दुनिया की हर हलचल पर आलोक पुराणिक की टेढ़ी नजर.

Updated On: Jun 15, 2017 10:30 AM IST

Alok Puranik Alok Puranik
लेखक आर्थिक पत्रकार हैं और दिल्ली विश्वविद्यालय में कामर्स के एसोसिएट प्रोफेसर हैं

0
क्विक शॉट: दादा, बेटे और पोते की लड़ाई, फाइनल का मैच घर की कहानी

(क्विक शॉट ताजातरीन खबरों पर व्यंग्यकार आलोक पुराणिक का व्यंग्य है. इसे हल्के-फुल्के अंदाज में लें)

#ENGvPAK

यहीं हार लेते ना

इंग्लैंड से मैच जीतकर पाक के खिलाड़ी खुश नहीं हैं. इंग्लैंड से हारकर पाक खिलाड़ियों की हद से हद कड़ी निंदा होती, पर फाइनल में अगर इंडिया से हारे तो धुलाई-ठुकाई होगी.

#ENGvPAK

खुशी से ज्यादा हैरत

पाकिस्तानी खिलाड़ियों की यही ईमानदारी दिल को छू जाती है. जीतने के बाद खुशी से ज्यादा हैरत में दिखते हैं- जीत कैसे गये बे.

#chamionstrophy

एकता कपूर की चैंपियन्स ट्राफी

क्रिकेट ऐसा एकता कपूरी कभी ना हुआ होगा. अब मामला दादाजी भारत, बेटाजी पाकिस्तान और पोताजी बंगलादेश के बीच रह गया है- कहानी घर-घर की है- अब, चैंपियन्स ट्रॉफी तो इंगलैंड की हार पर खत्म हुई.

#ENGvPAK

स्मार्ट अंग्रेज

अंग्रेजों का यही चालूपना तो उन्हें अतुलनीय बनाता है. इंग्लैंड ने चैंपियंस ट्राफी को अब बंग्लादेश, भारत और पाक के बीच लाकर छोड़ दिया है। कोई भी हारो, एशियावाला ही हारेगा, हमें क्या.

#chamionstrophy

पलटकर पिटाई

पाकिस्तान कभी भी, नेवर बंग्लादेश से फाइनल में हारना पसंद ना करेगा. पाक को बंग्लादेश से पिटने पर ऐसा फील आता है, जैसे बरसों पहले घर से भागे लड़के ने लौटकर फिर पिटाई कर डाली हो.

#बालकपन

12 पर स्थिर

एक अध्ययन के मुताबिक 90 परसेंट बच्चे 12 साल की उम्र तक गर्मी की छुट्टियों में नानी के यहां जाते हैं, फिर नहीं जाते और बचे 10 परसेंट 12 साल की उम्र के बाद भी 12 के ही बने रहते हैं.

#एमपीगजबहै

गिरफ्तार ना हुए तो

मंदसौर जा रहे हर टूरिस्ट नेता की चिंता यह है कि अगर बीच रास्ते में गिरफ्तार करके वापस नहीं भेजे गये, तो क्या होगा, तैयारी तो बस दो घंटे के टूर की करके निकले थे ना.

#RahulGandhi

पप्पुई चिंताएं

मेरठ के एक कांग्रेस नेता को पार्टी से इसीलिए बाहर किया गया कि उसने राहुल गांधी को पप्पू कह दिया था. यानी नेता पप्पू यादव के लिए कांग्रेस के दरवाजे हमेशा के लिए बंद हो गये हैं. पर इसमें कांग्रेस का ज्यादा भला है या पप्पू यादव का, इस सवाल का जवाब अभी आना बाकी है.

#vijaymallya

नशेबाजों के बैंक

विजय माल्या ने फुलटू आत्मविश्वास से ब्रिटिश अदालत में कहा- मेरे पास सबूत हैं कि मैंने सारे पैसे बार-बार नशेबाजी करनेवालों से कमाये हैं, दारु की कंपनियां रही हैं मेरी. बट माल्या तुमने बैंकों से 9000 करोड़ रुपये लिये. मी लार्ड-मुझे 9000 करोड़ का बार-बार कर्ज देनेवाले बैंकरों को आप नशेबाजों से अलग समझते हैं क्या .

#vijaymallya

बापू मेरे लिए क्या

बाकी सब तो ठीक है माल्या का, पर बेटा सिद्धार्थ माल्या रोज डांटता है- बापू सारा लोन तो आप लेकर लंदन आ गये। अब मैं कहां से लूं, लंदन में बैंक तो मुझसे बैंक का साइन बोर्ड देखने तक के पैसे चार्ज करते हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi