S M L

टाइपिंग अम्मा: जिनकी उंगलियां टाइपराइटर पर चेतक की तरह दौड़ती हैं

सहवाग ने ट्वीट में लक्ष्मी बाई को प्रणाम करते हुए लिखा 'ये सिखाती हैं कि कोई काम छोटा और कोई उम्र नई चीज सीखने के लिए ज्यादा नहीं होती'

FP Staff Updated On: Jun 13, 2018 04:11 PM IST

0
टाइपिंग अम्मा: जिनकी उंगलियां टाइपराइटर पर चेतक की तरह दौड़ती हैं

एक वृद्ध महिला की टायपराइटर पर थिरकती उंगलियों की रफ्तार ने उन्हें इंटरनेट सेंसेशन बना दिया है. मध्य प्रदेश के सीहोर जिले की रहने वाली इस महिला का नाम लक्ष्मी बाई है. जिनकी उम्र 72 साल है और यह सीहोर के कलेक्ट्रेट में आवेदन टाइप करतीं हैं. लक्ष्मी बाई की टाइपिंग की रफ्तार ने उन्हें एक नया नाम 'टाइपिंग अम्मा' दे दिया है.

दरअसल लक्ष्मी बाई का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. जिसमें वह टाइपराइटर पर टाइपिंग करती दिख रहीं हैं. उम्र के इस पड़ाव पर भी उनकी टाइपिंग की रफ्तार कई युवाओं से काफी तेज है. साथ ही वह अपनी तेज टाइपिंग के कारण कई युवाओं के लिए प्रेरणा बन गईं हैं.

कोई उम्र नई चीज सीखने के लिए ज्यादा नहीं होती

यह वीडियो तब और भी ज्यादा लोगों के सामने आया जब मशहूर क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने भी लक्ष्मी बाई की टाइपिंग वाली इस वीडियो को अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया. उन्होंने वीडियो शेयर करते हुए लिखा 'ये महिला मेरे लिए सुपरवुमन हैं. ये सीहोर, मध्य प्रदेश में रहती हैं. आज के युवा इनसे बहुत कुछ सीख सकते हैं. सिर्फ इनकी टाइपिंग स्पीड ही नहीं, बल्कि जिंदगी जीने का जज्बा भी इंस्पायरिंग है.' सहवाग ने ट्वीट में लक्ष्मी बाई को प्रणाम करते हुए लिखा 'ये सिखाती हैं कि कोई काम छोटा और कोई उम्र नई चीज सीखने के लिए ज्यादा नहीं होती.'

पति ने दिव्यांग बेटी के साथ घर से निकाला तो इंटरनेट ने स्टार बना दिया

दरअसल लक्ष्मी बाई का टाइपिंग अम्मा बनने का सफर भले ही आसान लगता हो लेकिन ऐसा हरगिज नहीं हैं. दैनिक भास्कर में छपी खबर के मुताबिक लक्ष्मी बाई अपनी दिव्यांग बेटी के साथ रहती हैं. उनका कहना है कि उनके पति ने  दिव्यांग बेटी के साथ उन्हें घर से निकाल दिया था. इसके बाद वह इंदौर के सहकारी बाजार में पैकिंग का काम करने लगीं. वहीं उन्होंने आस-पास के लोगों से टाइपिंग भी सीख ली.

उनका कहना है कि एक बार उन्हें टाइपिंग करते हुए तत्कालीन कलेक्टर राघवेंद्र सिंह और एसडीएम भावना विलम्बे ने देखा और वह उनकी टाइपिंग स्पीड से प्रभावित हो गए. जिसके बाद दोनों उन्हें कलेक्ट्रेट ले गए और वह कलेक्ट्रेट ऑफिस में आवेदन टाइप करने लगीं. जिस वीडियो ने उन्हें सोशल मीडिया सेंसेशन बना दिया है, वह आवेदन टाइप करते हुए ही बनाई गई है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
International Yoga Day 2018 पर सुनिए Natasha Noel की कविता, I Breathe

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi