S M L

Holi 2018: न्यू-यॉर्क से बनकर आया है होली वाला गूगल डूडल

गूगल ने इस डूडल में इस्तेमाल रंगों के मतलब भी बताए हैं

Updated On: Mar 02, 2018 01:38 PM IST

FP Staff

0
Holi 2018: न्यू-यॉर्क से बनकर आया है होली वाला गूगल डूडल

होली के मौके पर गूगल ने भी अपना डूडल बदल दिया है. आज गूगल के डूडल में कई सारे रंग दिख रहे हैं. औरतें और आदमी नाचते, रंग खेलते ढोल बजाते दिख रहे हैं.

खास बात ये है कि गूगल का ये होली स्पेशल डूडल भारत नहीं न्यू यॉर्क से आया है. अमेरिका में रहने वाली डिज़ाइनर अमृता मरीनो ने ये गूगल डूडल बनाया है.

अपने आधिकारिक ब्लॉग में गूगल ने इस डूडल के बारे में कहा है, ये पारंपरिक ढोल बजानेवाले एक घर से दूसरे घर जाते हैं. इससे होली के त्योहार में संगीत की एक मस्ती घुलती है. रंग अलग-अलग चीजों का प्रतीक होते हैं.

लाल प्रेम और उर्वरता को दिखाता है. पीला हल्दी का रंग है, जोकि प्राकृतिक उपचार है. नीला भगवान कृष्ण का रंग है. हरा नई शुरुआत का प्रतीक है. गूगल ने अपने ब्लॉग पर इस डूडल के ड्राफ्ट भी दिखाए हैं. ये वो वर्जन हैं जो 2018 होली के डूडल बनने की प्रक्रिया में तैयार हुए थे.

google_drafts-doodle

वैसे होली ऐसे समय आती है जब मौसम तेजी से बदल रहा होता है. न ज्यादा सर्दी और न ज्यादा गर्मी. तभी इस दौरान सरद-गरम होने का खतरा बढ़ जाता है. नतीजतन ज्यादातर लोग सुस्ती से ग्रस्त निढाल पड़े दिखते हैं. हिंदू मान्यताओं के मुताबिक सुस्ती को दूर करने और लोगों में जोश भरने के लिए ही फाग और जोगीरा गाए जाते हैं. ढोल और मंजीरे की थाप पर लोग मस्ती करते दिखते हैं. पारंपरिक गीत-गाने का यह चलन पूरे शरीर में स्फूर्ति भरने में मददगार साबित होता है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi