S M L

Google Doodle: इस महान फ्रेंच कलाकार के नाम समर्पित है आज का डूडल

गूगल ने आज अपना डूडल फ्रेंच एक्टर और प्लेराइटर मोलिरे (Molièr) को डेडिकेट किया है

Updated On: Feb 10, 2019 11:12 AM IST

FP Staff

0
Google Doodle: इस महान फ्रेंच कलाकार के नाम समर्पित है आज का डूडल

दुनिया का सबसे बड़ा सर्च इंजन गूगल आम तौर पर किसी खास शख्सियत को उनके जन्मदिन या पुण्यतिथि पर अपना डूडल समर्पित करता है. लेकिन आज यानी 10 फरवरी का गूगल डूडल कुछ अलग और खास है. गूगल ने अपना डूडल फ्रेंच एक्टर और प्लेराइटर मोलिरे (Molièr) को डेडिकेट किया है. उनका असली नाम जीन-बाप्टिस्ट पोक्युलीन था.

दरअसल वर्ष 1673 में आज ही के दिन मोलिरे ने अपने आखिरी नाटक Le Malade Imaginaire का प्रीमियर किया था. इसी खास दिन को याद करते हुए गूगल ने यह बेहतरीन डूडल बनाया है.

google doodle 1

ये डूडल कुल 6 स्लाइड्स में बनाया गया है, जिसमें Le Malade Imaginaire नाटक के अलावा मोलिरे के कुछ दूसरे प्रसिद्ध नाटकों की झलक भी दर्शाई गई है. इनमें स्कूल फॉर वाइव्स, डॉन जुअन और द माइजर जैसे नाटक शामिल हैं.

मोलिरे 17वीं शताब्दी के कुछ महान कलाकारों में से एक माने जाते हैं. वो आम तौर पर अपने नाटकों में समाज की बुराइयों को व्यंगात्मक तरीके से पेश करते थे. वो अपने एक अलग अंदाज में नाटकों को पेश करते थे जो लोगों को काफी पंसद आता था. हालांकि मोलिरे को अपने व्यंगात्मक नाटकों की वजह से कुछ विवादों का सामना भी करना पड़ता था.

google doodle 3

मोलिरे को फ्रेंच कॉमडी का किंग भी माना जाता था. उन्होंने कई नाटकों में बेहतरीन अभिनय के साथ-साथ बेहतरीन नाटकों को लिखा भी है. मोलिरे ने 'टारटेफ' नाम से एक नाटक भी लिखा था जिसमें उन्होंने धर्म पर निशाना साधा था. इस नाटक की वजह से उन्हें काफी विवाद झेलना पड़ा था.

उनका यह नाटक 5 साल के लिए बंद भी कर दिया गया था लेकिन पांच साल बाद नाटक से बैन हटा लिया गया. मोलिरे ने अपन आखिरी नाटक Le Malade Imaginaire में मेडिकल प्रोफेशन को लेकर व्यंग कसा था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi