S M L

कंपनी का टारगेट पूरा नहीं किया तो कर्मचारियों को सरेआम बनाया 'कुत्ता', वीडियो वायरल

इससे पहले भी एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें यह सामने आया था कर्मचारियों को एक महिला ने लाइन से खड़ा करके थप्पड़ मारे थे

Updated On: Jan 16, 2019 07:24 PM IST

FP Staff

0
कंपनी का टारगेट पूरा नहीं किया तो कर्मचारियों को सरेआम बनाया 'कुत्ता', वीडियो वायरल

क्या आपने सोचा है कि अगर आपने अपनी कंपनी में निश्चित टारगेट पूरा नहीं किया तो आपको क्या सजा मिल सकती है? अगर नहीं सोचा तो ये वीडियो आपके लिए है. इस वीडियो में साफ दिख रहा है कि जिन लोगों ने अपना सालाना टारगेट पूरा नहीं किया उन्हें घुटनों के बल सड़क पर चलना पड़ रहा है.

साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट के मुताबिक, यह वीडियो चीन के शेनडोंग का है. इसमें सबसे आगे एक शख्स चल रहा है जिसके हाथ में कंपनी का झंडा है. इस शख्स के पीछे बाकी लोग घुटनों के बल चल रहे हैं और उनके हाथ भी जमीन पर ही हैं.

यह सब तब तक होता रहा जब तक पुलिस ने इसे रोका नहीं. रिपोर्ट का कहना है कि कंपनी कुछ समय के लिए बंद हो गई थी. इससे पहले भी एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें यह सामने आया था कर्मचारियों को एक महिला ने लाइन से खड़ा करके थप्पड़ मारे थे. इन कर्मचारियों ने सही से काम नहीं किया.

इस तरह के वीडियो के सामने आने के बाद सोशल मीडिया पर लोगों का जमकर गुस्सा फूटा था. लोगों ने कहा था कि कर्मचारियों को इस तरह बेइज्जत करने वाली कंपनियों को बंद कर देना चाहिए. आखिर कर्मचारी पैसों के लिए अपने आत्मसम्मान से कैसे समझौता कर सकते हैं.

इससे पहले चीन की एक होम रिनोवेशन कंपनी ने अपने वर्कर्स को ऐसी ही सजा दी थी जिसके बारे में जानकर आप हैरान हो जाएंगे. इस कंपनी के वर्कर्स तय समय में अपना काम पूरा नहीं कर सके इसलिए उन्हें पेशाब पिलाई गई और कॉकरोच खिलाए गए थे.

यह सजा इतने से ही नहीं रुकी, उन्हें बेल्टों से भी पीटा गया था. कई कर्मचारियों का सर टॉयलेट बाउल में डाल दिया गया और उन्हें गंदा पानी पिलाया गया था. उनकी सैलरी को भी एक महीने के लिए रोक दिया गया था. स्टेट मीडिया के मुताबिक यह सारी सजा कंपनी के बाकी कर्मचारियों के सामने दी गई थी.

भूलने वाला स्टाफ जिन्होंने काम करने के लिए चमड़े के जूते नहीं पहने थे या औपचारिक पोशाक में नहीं पहनी थी उन पर 50 युआन ($ 7.20) जुर्माना लगाया गया था. उनकी इस गलती को एक सफेद पर्ची में दर्ज किया गया था. स्टेट मीडिया के मुताबिक स्टाफ के कई लोगों ने सजा के बावजूद कंपनी में बने रहने को चुना. कंपनी के 3 मैनेजरों को 5 से 10 दिनों की सजा मिली.

ये भी पढ़ें: खुद को पीएम कैंडिडेट की तरह प्रोजेक्ट कर मायावती ने मोदी के साथ राहुल को भी दी चुनौती

ये भी पढ़ें: राहुल की वजह से लिया था महागठबंधन से अलग होने का फैसला- नीतीश कुमार

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi