S M L

बच्चे सुरक्षित नहीं तो हमारी गर्दन शर्म से झुक जानी चाहिए: प्रसून जोशी

रयान इंटरनेशनल स्कूल में बच्चे की बेरहमी से की गई हत्या ने लोगों को झकझोर के रख दिया है

FP Staff Updated On: Sep 12, 2017 07:56 PM IST

0
बच्चे सुरक्षित नहीं तो हमारी गर्दन शर्म से झुक जानी चाहिए: प्रसून जोशी

गुरुग्राम के रयान इंटरनेशनल स्कूल में बच्चे की बेरहमी से की गई हत्या ने लोगों को झकझोर के रख दिया है. गीतकार और हाल ही में सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष बने प्रसून जोशी ने भी एक कविता पोस्ट की है.

इस कविता में प्रसून जोशी ने इंसानी सभ्यता को धिक्कारते हुए कहा है, 'अगर हमारे बच्चे ही हमारे समाज में सुरक्षित नहीं हैं तो हमारी गर्दन शर्म से झुक जानी चाहिए. अगर इसके बाद भी सर उठा कर खड़ा हो सकता है इंसान तो समझो कुछ ग़लत है'

देशभर में बच्चों के साथ बढ़ रही रेप और हत्या की खबरों पर फिल्म इंडस्ट्री से लोगों की प्रतिक्रिया आती रहती हैं. हाल ही में रेणुका शहाणे ने भी एक फेसबुक पोस्ट लिखकर अपनी चिंता और गुस्सा जताया था.

उन्होंने लिखा था, माता-पिता अपने बच्चों को इस विश्वास के साथ स्कूल में छोड़ते हैं कि हमारे बच्चे शिक्षा की इन दीवारों के भीतर सुरक्षित और संरक्षित रहेंगे, लेकिन एक के बाद एक हो रही इस तरह की घटनाएं 'अंतर्राष्ट्रीय' स्कूलों में मंहगी फीस भरने के बावजूद हमारे बच्चों की सुरक्षा में हो रही ढिलाई को जाहिर करती हैं.

इसके अलावा हाल ही में फिल्म भूमि के प्रमोशन के दौरान जब संजय दत्त से बच्चों की सुरक्षा के विषय में सवाल किए गए तो संजय दत्त ने कहा कि यह वक्त बहुत डरावना है. साथ ही उन्होंने कहा कि अपने दोनों बच्चों की सुरक्षा को लेकर बहुत घबराते हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
कोई तो जूनून चाहिए जिंदगी के वास्ते

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi