Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

कॉन्डम के ऐड अगर गलत हैं तो इनके बारे में क्या खयाल है!

कॉन्डम के अलावा कई ऐसे ऐड हैं, जो दिन में दिखाने लायक नहीं हैं

FP Staff Updated On: Dec 12, 2017 06:35 PM IST

0
कॉन्डम के ऐड अगर गलत हैं तो इनके बारे में क्या खयाल है!

दिन भर दिखाए जा रहे कॉन्डम ऐड पर अब पाबंदी लग गई है. वजह साफ है कि बच्चों पर इसका गलत असर होगा. लिहाजा, सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने फैसला लिया है कि कॉन्डम विज्ञापनों को सुबह 6 से रात10 बजे तक टीवी पर नहीं दिखाया जाएगा. दलील यह है कि ये विज्ञापन एडल्ट कैटेगरी में आते हैं और प्राइम टाइम पर प्रसारित होने लायक नहीं हैं.

निश्चित तौर पर यह एक बेहतर फैसला है. लेकिन क्या केवल कॉन्डम के ऐड से ही बच्चों पर बुरा असर पड़ता है. उन विज्ञापनों का क्या जिनके प्रोडक्ट का दूर दूर तक सेक्स के साथ कोई लेना-देना नहीं होता पर फिर भी वो अपने प्रॉडक्ट बेचने के लिए सेंसुअल तरीकों का इस्तेमाल करते हैं.

कुछ ऐसे ही विज्ञापनों के बारे में हम बता रहे हैं, जो कॉन्डम के तो नहीं हैं लेकिन उनसे कुछ कम भी नहीं है.

स्लाइस का विज्ञापन

कैटरीना कैफ के इस 'आमसूत्र ऐड' को देखने के बाद शायद आम आपका सबसे ज्यादा पसंदीदा फल बन गया होगा.

एक्स डियो

एक्स डियो का विज्ञापन करने वाले का कॉन्फिडेंस देखिए. बस ये डियोड्रेंट लगाइए और लड़कियां आपके पीछे होंगी.

मूव

आह से आहा तक!!! मूव के ऐड से ज्यादा पति-पत्नी का लव गेम.

नो स्मोकिंग

स्मोकिंग छोड़िए वरना आखिरी इच्छा भी पूरी नहीं हो पाएगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
AUTO EXPO 2018: MARUTI SUZUKI की नई SWIFT का इंतजार हुआ खत्म

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi