विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

पीएम मोदी के बयान के बाद एबीवीपी बोली, चुनाव के बाद करेंगे डीयू स्वच्छ

एबीवीपी नेता साकेत बहुगुणा ने कहा कि डीयू में पेपरलेस कैंपेन संभव नहीं है

FP Staff Updated On: Sep 11, 2017 09:10 PM IST

0
पीएम मोदी के बयान के बाद एबीवीपी बोली, चुनाव के बाद करेंगे डीयू स्वच्छ

छात्र संगठनों द्वारा यूनिवर्सिटीज में छात्र संघ चुनाव प्रचार में भारी मात्रा में कचरा फैलाने को लेकर एबीवीपी ने अब सफाई रखने की बात कही है.

एबीवीपी का यह बयान ऐसे समय आया है जब सोमवार को ही पीएम मोदी स्वामी विवेकानंद के शिकागो में धर्म संसद में दिए ऐतिहासिक भाषण के मौके पर बोल रहे थे. इस दौरान उन्होंने छात्र संगठनों द्वारा चुनाव प्रचार के दौरान सफाई रखने की बात कही थी.

मंगलवार को होने वाले दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ चुनाव से पहले एबीवीपी ने चुनाव खत्म होते ही कैंपस साफ करने का वादा किया है.

अपने भाषण के दौरान पीएम मोदी ने कहा था, 'आपने (छात्र संगठनों ने) बड़े-बड़े वादे किए हैं पर मैं आपसे पूछता हूं, आपने कैंपस को साफ रखने के लिए क्या किया है? पीएम स्वच्छ भारत मिशन के बारे में अपनी बात रख रहे थे. उन्होंने यह भी कहा था कि छात्रों को ज्यादा क्रिएटिव और इनोवेटिव तरीके से चुनाव प्रचार करना चाहिए. माना जा रहा है कि वह कागज के कम इस्तेमाल की ओर इशारा कर रहे थे.

एबीवीपी के मीडिया संयोजक साकेत बहुगुणा ने कहा, 'हम पीएम मोदी की बातों से बहुत प्रभावित हैं. पूरे देश में सफाई अभियान चलाया जाना चाहिए. कॉलेजों में छात्रों को सफाई रखनी चाहिए. पीएम मोदी के कहे मुताबिक चुनाव के बाद हम स्वच्छ डीयू अभियान चलाएंगे.'

बड़े कैंपस में पेपरलेस प्रचार संभव नहीं

हालांकि बहुगुणा ने कहा कि कागज रहित चुनाव तब तक संभव नहीं है जब तक चुनाव के नियम नहीं बदले जाते. उन्होंने कहा, 'अन्य यूनिवर्सिटीज से अलग हमारे यहां पेपरलेस अभियान संभव नहीं है क्योंकि यह यूनिवर्सिटी पूरे शहर में फैली हुई है. हमें लगभग 2 लाख छात्रों तक दो दिनों में पहुंचना पड़ता है. इसलिए छात्र संगठन ऐसे शॉर्ट कट लेते हैं.

एबीवीपी के एक कार्यकर्ता ने नाम ना छापे जाने की शर्त पर बताया कि बड़े पोस्टर छपवाने के मुकाबले छोटे पर्चे छपवाने में कम खर्च आता है. एनएसयूआई के कार्यकर्ता ने भी कहा कि अगर ढेर सारे पर्चे सड़क पर पड़े हों तो हमारा बेहतर प्रचार हो जाता है क्योंकि उसे तो छात्र देखे बिना आगे बढ़ ही नहीं सकते.

(न्यूज़18 से इनपुट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi