विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

जिम्बाब्वे तख्तापलट: सेना की सफाई- राष्ट्रपति के खिलाफ कार्रवाई नहीं

जिम्बाब्वे में सेना और सरकार के बीच तनाव बढ़ता जा रहा है. यहां पिछले कुछ समय से तख्तापलट की खबरें सामने आ रही हैं

FP Staff Updated On: Nov 15, 2017 09:21 AM IST

0
जिम्बाब्वे तख्तापलट: सेना की सफाई- राष्ट्रपति के खिलाफ कार्रवाई नहीं

जिम्बाब्वे में सेना और सरकार के बीच तनाव बढ़ता जा रहा है. यहां पिछले कुछ समय से तख्तापलट की खबरें सामने आ रही हैं. हालांकि जिम्बाब्वे आर्मी के प्रवक्ता का कहना है कि यहां सैन्य तख्तापलट जैसा कुछ नहीं हो रहा है. जिम्बाब्वे आर्मी ने देश के नेशनल ब्रॉडकास्टर जेडबीसी पर एक बयान में कहा है कि अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है न कि राष्ट्रपति रॉबर्ट मुगाबे के खिलाफ. राष्ट्रपति पूरी तरह से सुरक्षित हैं. दूसरी ओर बताया जा रहा है कि सैनिकों ने हरारे में स्थित जेडबीसी पर कब्जा कर लिया है.

सेना की ओर से बयान में कहा गया है कि सेना उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई कर रही है, जोकि अपराध कर रहे हैं और देश को समाजिक और आर्थिक रूप से नुकसान पहुंचा रहे हैं. एक बार मिशन पूरा हो जाएगा, तो हालात फिर से सामान्य हो जाएंगे.

इससे पहले बुधवार को जिम्बाब्वे की राजधानी हरारे में भारी गोलीबारी देखने को मिली थी. जिम्बाब्वे के सेना प्रमुख ने सैन्य हस्तक्षेप की चेतावनी दी थी. जिसके बाद मुगाबे के नेतृत्व वाली सत्ताधारी पार्टी ZANU-PF ने उनके खिलाफ देशद्रोह का आरोप लगाया था. सेना प्रमुख उपराष्ट्रपति को बर्खास्त किए जाने से नाखुश थे और इसी के चलते जनरल कॉन्सटैनटिनो चिवेंगा ने राष्ट्रपति को चेताया था कि वो गंदगी की सफाई करने के लिए तैयार हैं. मंगलवार को तनाव बेहद बढ़ गया था और सेना ने हरारे की सड़कों पर पोजिशन ले ली थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi