S M L

चीनी मिल बिक्री घोटाले की सीबीआई जांच कराएगी योगी सरकार

साल 2010-11 में राज्य की 21 चीनी मिलों की बिक्री में 1100 करोड़ रुपए के घोटाले का आरोप है

Updated On: Apr 08, 2017 10:02 PM IST

Bhasha

0
चीनी मिल बिक्री घोटाले की सीबीआई जांच कराएगी योगी सरकार

उत्तर प्रदेश सरकार ने मायावती सरकार के दौरान हुए राज्य की 21 चीनी मिलों की बिक्री घोटाले की जांच के निर्देश दिए हैं. सरकार ने जरूरत पड़ने पर मामले की सीबीआई जांच कराने की भी बात कही.

शुक्रवार रात मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने कार्यालय में गन्ना विकास एवं चीनी उद्योग विभाग के प्रेजेंटेशन के दौरान यह निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि, 2010-11 में प्रदेश की 21 चीनी मिलों को बेचने में हुए लगभग 1100 करोड़ रुपये के घोटाले की गहन जांच कराई जाए.

योगी ने कहा कि, जरूरत पड़ने पर इस मामले की जांच सीबीआई से भी कराए जाने पर विचार होगा. उन्होंने कहा कि पेराई सत्र 2016-17 के बकाये गन्ना मूल्य का भुगतान 23 अप्रैल तक किसानों को हर हालत में कर दिया जाए. ऐसा नहीं होने पर संबंधित चीनी मिल मालिकों पर एफआईआर दर्ज कराई जाएगी.

A worker carries a bundle of sugarcane on his head at a farmland near Modinagar in the northern Indian state of Uttar Pradesh, India, March 4, 2016. Picture taken March 4, 2016. REUTERS/Anindito Mukherjee - RTS9KMG

यूपी के गन्ना किसानों का राज्य के शुगर मिलों पर काफी पैसा बकाया है

पिछले सरकार की तुलना किसानों को ज्यादा भुगतान किया गया है

योगी ने बंद सहकारी चीनी मिलों को अगले वित्त वर्ष 2018-19 में चालू कराने के लिए जरूरी व्यवस्थाएं समय से सुनिश्चित कराने के भी निर्देश दिए.

उन्होंने बताया कि, 2015-16 और 2016-17 के गन्ना मूल्य भुगतान की तुलनात्मक स्थिति में पिछले वर्ष की तुलना में वर्तमान वर्ष में 7,918 करोड़ का भुगतान किया गया है. वर्तमान सरकार की गठन के बाद अब तक गन्ना मूल्य का 2923 करोड़ रूपये का किसानों को भुगतान कराया गया है.

मुख्यमंत्री योगी ने गन्ना किसानों की शिकायतों का निपटारा करने के लिए गन्ना विकास विभाग द्वारा एक टोल फ्री नंबर जारी किये जाने की भी बात कही.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi