S M L

योगी सरकार विकास के नाम पर नफरत फैला रही है: अखिलेश

अखिलेश ने कहा, 'राहुल गांधी के साथ दोस्ती कायम रहेगी. मैं उन लोगों में से नहीं हूं जो दोस्त बदलते हैं. हम दोनों की पार्टियों का गठबंधन था और यह कायम रहेगा'

Updated On: Nov 11, 2017 04:09 PM IST

Bhasha

0
योगी सरकार विकास के नाम पर नफरत फैला रही है: अखिलेश

समाजवादी पार्टी (एसपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बीजेपी पर हमला बोला है. अखिलेश ने यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार पर विकास के नाम पर समाज में नफरत फैलाने का आरोप लगाया.

अखिलेश यादव ने लखनऊ में शनिवार को एक मीडिया हाउस द्वारा आयोजित कार्यक्रम में कहा, ‘बीजेपी के लोग होशियार बहुत होते हैं- झगड़ा कराने और नफरत फैलाने में उनसे बेहतर दो-फाड़ कोई नहीं कर सकता. चाहे वह परिवार में या फिर किसी राजनीतिक दल में हो. आप बंगाल देख लो, गुजरात देख लो या फिर उत्तर प्रदेश को ही ले लो, ऐसे अनेक उदाहरण आपको मिल जाएंगे.’

उन्होंने कहा, ‘हिंदू-मुस्लिम या जाति के नाम पर विभाजन उनसे बेहतर कौन कर सकता है? लोग हम पर जातिवादी होने का आरोप लगाते हैं लेकिन उन्हें जातिवादी नहीं कहते. मैंने कभी जाति या धर्म के नाम पर वोट नहीं मांगा और न ही एमवाई (मुस्लिम-यादव) फैक्टर के नाम पर वोट मांगा.’

यह पूछे जाने पर कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी को हुए नुकसान की वजह क्या पार्टी के अंदरूनी झगड़े थे, इस पर अखिलेश ने कहा, ‘झगड़ा चाहे देश में हो या समाज में या परिवार में हमेशा नुकसानदेह होता है. उनकी पार्टी सत्ता से हट गई और इस तरह परिवार की अंदरूनी समस्याओं का भी खात्मा हो गया.’

यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा, 'अपने कार्यकाल में उन्होंने उन परियोजनाओं का कभी उद्घाटन नहीं किया जिनका पहले उद्घाटन हो चुका था. लेकिन समाजवादी पार्टी के कार्यकाल में जो काम किए गए थे, यह सरकार उन्हीं कामों का फिर से उद्घाटन कर रही है. अगर इस सरकार ने प्रदेश के लिये कुछ नया काम किया हो तो उन्हें जनता को बताना चाहिए.’

यूपी विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस से गठबंधन के सवाल पर अखिलेश ने कहा, ‘राहुल गांधी के साथ उनकी दोस्ती कायम रहेगी. मैं उन लोगों में से नहीं हूं जो दोस्त बदलते हैं. हम दोनों की पार्टियों का गठबंधन था और यह कायम रहेगा.’

गुजरात में प्रचार के लिए कांग्रेस द्वारा उन्हें नहीं बुलाए जाने के सवाल पर उन्होंने कहा, ‘इसका कोई मतलब नहीं है. हमें वहां जाने से कौन रोकेगा, हमारी पार्टी के प्रत्याशी भी वहां चुनाव के मैदान में हैं.’

इस दौरान अखिलेश ने बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) से किसी भी गठजोड़ के बारे में कुछ भी बोलने से इनकार किया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi