S M L

'राहुल गांधी अवसरवादी हिंदू, चुनाव के वक्त आती है अपने धर्म की याद'

येदियुरप्पा ने कहा, "कर्नाटक में राहुल किस मंदिर में दर्शन कर रहे हैं, यह उनका निजी मामला है. लेकिन, वो अवसरवादी हिंदू हैं. चुनाव खत्म हो जाने के बाद उन्हें हिंदू धर्म याद नहीं रहता

Updated On: Jan 21, 2018 02:43 PM IST

FP Staff

0
'राहुल गांधी अवसरवादी हिंदू, चुनाव के वक्त आती है अपने धर्म की याद'

कर्नाटक में चुनावी तैयारियां शुरू हो गई हैं. कांग्रेस और बीजेपी ने अपने-अपने स्तर पर कमर कसना शुरू कर दिया है. चुनावों के मद्देनजर बीजेपी नेता बीएस येदियुरप्पा का रोल अहम हो गया है. इन दिनों वह जनता का मिजाज भांपने के लिए 'परिवर्तन यात्रा' पर निकले हैं.

इस दौरान येदियुरप्पा ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए राहुल गांधी को 'अवसरवादी हिंदू' बताया. कांग्रेस अध्यक्ष के 'सॉफ्ट हिंदुत्व' और 'टेंपल विजिट' पर हमला बोलते हुए येदियुरप्पा ने कहा, "राहुल गांधी अवसरवादी हिंदू हैं. उन्हें सिर्फ चुनाव के वक्त ही अपने धर्म की याद आती है." येदियुरप्पा ने इस चुनाव में बीजेपी के 150 से ज्यादा सीटों पर विजय हासिल करने का दावा भी किया है. येदियुरप्पा की यह यात्रा 25 जनवरी को मैसूर में खत्म होगी.

कर्नाटक में नहीं काम करेगा राहुल गांधी का ट्रिक

'न्यूज18' से खास बातचीत में येदियुरप्पा ने कहा, "कर्नाटक में राहुल किस मंदिर में जाकर दर्शन कर रहे हैं, यह उनका निजी मामला है. लेकिन, वो अवसरवादी हिंदू हैं. चुनाव खत्म हो जाने के बाद उन्हें हिंदू धर्म याद नहीं रहता. कर्नाटक में राहुल का ये ट्रिक काम नहीं करेगा. जनता मूर्ख नहीं है. वो सबकुछ समझती है. इस चुनाव में जनता सबकुछ समझाएगी भी."

जनता चाहती है सत्ता में आए बीजेपी

'परिवर्तन यात्रा' के दौरान येदियुरप्पा 28 जिलों के कुल 203 विधानसभा सीटों का दौरा कर रहे हैं. येदियुरप्पा के मुताबिक, उन्हें इस यात्रा के दौरान लोगों की सकारात्मक प्रतिक्रिया मिल रही है. शुक्रवार को येदियुरप्पा अपने गृहनगर केआर पेटे पहुंचे थे. उनके मुताबिक, यहां के लोग चाहते हैं कि बीजेपी दोबारा सत्ता में आए.

पीएम मोदी के विकास एजेंडे पर काम

बीएस येदियुरप्पा ने बताया, 'मैं पीएम मोदी के विकास के एजेंडे पर चुनाव लड़ रहा हूं. कर्नाटक में मैंने इसी विकास के एजेंडे पर काम करते हुए सरकार चलाई है. उम्मीद है इसका सकारात्मक नतीजा दिखेगा.'

सिद्धारमैया सरकार की उलटी गिनती शुरू

परिवर्तन यात्रा के बारे में उन्होंने कहा, "इस यात्रा का अच्छा रिस्पॉन्स मिल रहा है. हजारों लोग जनसभा में पहुंच रहे हैं. चुनाव के पहले से ही परिवर्तन दिख रहा है. अब तक मैं 203 विधानसभा सीटों का दौरा कर चुका हूं. इस दौरान कुल 1.76 करोड़ लोगों को संबोधित किया है. सिद्धारमैया सरकार की उलटी गिनती शुरू हो गई है. आने वाले 3-4 महीने में कर्नाटक में सिद्धारमैया सरकार इतिहास हो जाएगी.

कांग्रेस के साथ नहीं हैं दलित

येदियुरप्पा ने दलित उत्थान का मुद्दा भी उठाया. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने अंबेडकर का अपमान किया था. पीएम मोदी ने संविधान दिवस पर संसद में अंबेडकर के सम्मान में कार्यक्रम रखा. दलित कांग्रेस के साथ नहीं हैं. चुनाव नतीजों में यह साफ हो जाएगा.

(साभार न्यूज18 हिंदी)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi