live
S M L

‘अर्थशास्त्री’ नहीं, ‘अनर्थशास्त्री’ हैं यशवंत सिन्हा

वीरेंद्र सिंह मस्त ने अरुण जेटली का पक्ष लेते हुए कहा कि यशवंत सिंह अर्थशास्त्री’ नहीं, ‘अनर्थशास्त्री’ हैं

Updated On: Sep 28, 2017 10:38 PM IST

Bhasha

0
‘अर्थशास्त्री’ नहीं, ‘अनर्थशास्त्री’ हैं यशवंत सिन्हा

भाजपा किसान मोर्चा के अध्यक्ष वीरेंद्र सिंह मस्त ने देश की अर्थव्यवस्था की स्थिति पर पार्टी के वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा के आलोचना भरे बयानों के लिए उन्हें आड़े हाथों लेते हुए आज कहा कि केंद्रीय वित्त मंत्री रह चुके सिन्हा ‘‘अर्थशास्त्री नहीं, अनर्थशास्त्री हैं’’.

मस्त ने सिन्हा की ओर से अचानक की गई इस आलोचना के पीछे की मंशा पर संदेह जताया और कहा, ‘‘किसी को यह नहीं सोचना चाहिए कि वह क्या कह रहे हैं, बल्कि इस बात पर विचार करना चाहिए वह ऐसा क्यों कह रहे हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘सिन्हा को दुख किसी और बात का है, लेकिन बोल कुछ और रहे हैं.’’

मस्त ने दावा किया कि अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में वित्त मंत्री रहे सिन्हा ने अपने कार्यकाल में किसानों के लिए कुछ नहीं किया और उन्होंने उस वक्त ‘अर्थमंत्री’ की तरह नहीं बल्कि ‘अनर्थमंत्री’ की तरह काम किया. भाजपा नेता ने कहा, ‘‘ये अर्थशास्त्री नहीं, अनर्थशास्त्री हैं और जब ये देश के मंत्री थे तो इन्होंने अर्थमंत्री की तरह नहीं, अनर्थमंत्री की तरह काम किया.’’

जब सिन्हा के बेटे और मोदी सरकार में मंत्री जयंत सिन्हा की ओर से सरकार का बचाव किए जाने के बारे में मस्त से सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि उन्हें जिन चीजों पर घर में चर्चा करनी चाहिए थी, उसके बारे में वे सरेआम बात कर रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘‘यह अजीब बात है कि पिता और पुत्र अखबारों एवं लेखों के जरिए एक-दूसरे से बातें कर रहे हैं, जबकि उन्हें घर में चाय पर चर्चा के दौरान इन मुद्दों पर निजी तौर पर बातचीत करनी चाहिए थी.’’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi