Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

आरजेडी रैलीः एंबुलेंस फंसने से महिला की मौत, रघुवंश ने कहा हो जाता है ऐसा

ये विरोध नीतीश सरकार की नई खनन नीति के खिलाफ बुलाई गई थी, इस बंद का नेतृत्व विपक्ष के नेता और पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव कर रहे थे

FP Staff Updated On: Dec 21, 2017 03:14 PM IST

0
आरजेडी रैलीः एंबुलेंस फंसने से महिला की मौत, रघुवंश ने कहा हो जाता है ऐसा

बिहार में गुरूवार को मुख्य विपक्षी दल आरजेडी ने बंद बुलाया है. इसकी वजह से सड़क पर लगे जाम में एक एंबुलेंस  फंस गई. जाम में एंबुलेंस के फंसने की वजह से एक महिला की मौत हो गई. इस दर्दनाक घटना के बाद आरजेडी के वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद ने कहा कि 'इस तरह की घटनाएं आंदोलन के दौरान हो जाती हैं. कुछ लोग कभी-कभी मर भी जाते हैं'.

जानकारी के मुताबिक सोमारी देवी (35 साल) हाजीपुर रोड की तरफ से पटना के  किसी हॉस्पिटल में भर्ती होने के लिए एंबुलेंस से परिवार के साथ आ रही थीं. इस बीच गांधी सेतु पर लगे जाम में उनकी एंबुलेंस फंस गई.

परिजनों ने आरजेडी कार्यकर्ताओं और पुलिस के सामने गुहार लगाई. उनसे इस मुश्किल हालात में मदद करने की अपील की लेकिन कहीं से निकलने का रास्ता नहीं बनाया जा सका. इस आपाधापी में महिला की मौत हो गई.

नई खनन नीति के विरोध में आयोजित था बंद, तेजस्वी हुए गिरफ्तार 

ये रैली नीतीश सरकार की नई खनन नीति के खिलाफ बुलाई गई थी. इस बंद का नेतृत्व विपक्ष के नेता और पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव कर रहे थे. उन्हें पटना में आरजेडी के कई नेताओं के साथ गिरफ्तार भी किया गया .

आरजेडी के बंद का असर मनेर में सुबह 6 बजे से ही दिखने लगा था. हालांकि बंद के दौरान पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद खुद सड़कों पर नहीं उतरे.  मनेर में विधायक भाई वीरेंद्र की अगुआई में आरजेडी समर्थक सड़क पर उतर गए और आगजनी कर एनएच-30 को जाम कर दिया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
AUTO EXPO 2018: MARUTI SUZUKI की नई SWIFT का इंतजार हुआ खत्म

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi