S M L

अगर मणिपुर का विभाजन हुआ तो इस्तीफा दे दूंगा: बीरेन सिंह

मणिपुर के सीएम बीरेन सिंह ने कहा कि अगर नागा संगठनों से बातचीत के बाद हमारी बात नहीं सुनी गई, अगर मणिपुर के लोगों और राज्य विधानसभा की सहमति नहीं ली गई तब हम कहीं के नहीं रहेंगे. तब स्वतः हमें अपना पदों से इस्तीफा देना होगा

Updated On: Jul 16, 2018 05:49 PM IST

FP Staff

0
अगर मणिपुर का विभाजन हुआ तो इस्तीफा दे दूंगा: बीरेन सिंह

मणिपुर के मुख्यमंत्री एन. बीरेन सिंह ने सोमवार को अपनी ही पार्टी के केंद्र सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर नागा संगठनों से बातचीत के बाद मणिपुर को तोड़ने की कोई भी कोशिश हुई तो लोगों की प्रतिक्रिया को रोकना मुश्किल हो जाएगा. उन्होंने कहा कि मणिपुर के लोगों का इतिहास, पृष्ठभूमि और कई चीजें साझा हैं, वर्तमान राज्य को बचाना बहुत ही जरूरी है.

मेरी सिर्फ इतनी चिंता है कि केंद्र सरकार को कोई भी फैसला लेने से पहले राज्य की विधानसभा को सूचित करना चाहिए. फिलहाल मैं यह नहीं कह सकता कि (मणिपुर की सीमाओं में परिवर्तन) यह होगा. हम एक शांतिपूर्ण समाधान चाहते हैं.

उन्होंने कहा कि अगर नागा संगठनों से बातचीत के बाद हमारी बात नहीं सुनी गई, अगर मणिपुर के लोगों और राज्य विधानसभा की सहमति नहीं ली गई तब हम कहीं के नहीं रहेंगे. तब स्वतः हमें अपना पदों से इस्तीफा देना होगा.

बीरेन सिंह ने कहा कि हम सोमवार को गृहमंत्री से मिले और उन्हें अपनी चिंताओं से अवगत करवाया. राज्य विधानसभा चुनावों के वक्त भी पीएम मोदी, अमित शाह और राजनाथ सिंह ने हमें यह भरोसा दिया था कि मणिपुर की क्षेत्रीय अखंडता सुरक्षित रहेगी.

पिछले कुछ दिनों से यह कयास लगाया जा रहा है कि नागा संगठनों से शांतिवार्ता के बाद मणिपुर के नागाबहुल हिस्सों को नगालैंड में शामिल कर दिया जाए. जिसकी मांग लंबे समय से ये नागा संगठन कर रहे हैं. दूसरी तरफ मणिपुर में नागाबहुल हिस्सों को मणिपुर से अलग करने की कोशिश का भारी विरोध हो रहा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi