विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

लालू की महारैली: शरद यादव की राज्य सभा सदस्यता क्या खत्म होगी?

शरद ने एक बार फिर दोहराया की बिहार की जनता नीतीश के बीजेपी के साथ जाने के फैसले से आहत है

FP Staff Updated On: Aug 28, 2017 08:26 PM IST

0
लालू की महारैली: शरद यादव की राज्य सभा सदस्यता क्या खत्म होगी?

लालू की रैली में शिरकत करने वाले शरद यादव की राज्य सभा की सदस्यता खत्म कराने के लिए जेडीयू उपराष्ट्रपति से गुहार लगाएगी. पार्टी महासचिव के सी त्यागी ने कहा कि शरद यादव पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल हैं लिहाजा उन पर कार्रवाई होनी जरूरी है. शरद यादव ने त्यागी के आरोपों को नकारते हुए अगले महीने जेडीयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक बुलाने की तैयारी शुरू कर दी है.

राष्ट्रीय स्तर पर बीजेपी के खिलाफ गठबंधन बनाने में लगे जेडीयू सांसद शरद यादव की संसद सदस्यता रद्द हो सकती है. जेडीयू महासचिव के सी त्यागी ने ऐलान किया कि राज्य सभा में पार्टी के नेता आर सी पी सिंह जल्द ही सभापति वेंकैया नायडू को इस बाबत पत्र सौंपेगे. पार्टी का तर्क है कि चेतावनी दिए जाने के बावजूद शरद यादव का लालू की रैली में हिस्सा लेना पार्टी विरोधी गतिविधि है लिहाजा संविधान के 10वें शेड्यूल के मुताबिक उनकी सदस्यता रद्द होनी चाहिए.

अगले महीने होगी पार्टी की बैठक

दूसरी तरफ पार्टी के रुख से बेपरवाह शरद ने पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक बुलाने का फैसला किया है. शरद यादव के धड़े का कहना है कि वो ही असली जेडीयू हैं. पार्टी की ये बैठक अगले महीने की 18 तारीख को दिल्ली में हो सकती है जिसमें शरद यादव धड़े के ही असली जेडीयू होने के दावे को साबित करने की कोशिश की जाएगी.शरद यादव कह रहे हैं कि वो पूरे देश में विपक्ष को एकजुट रखने की मुहिम बदस्तूर जारी रखेंगे. शरद ने एक बार फिर दोहराया की बिहार की जनता नीतीश के बीजेपी के साथ जाने के फैसले से आहत है.

असली जेडीयू नीतीश की पार्टी है या शरद यादव की, ये फैसला तो चुनाव आयोग करेगा. लेकिन पार्टी के सांसदों और विधायकों पर नीतीश की पकड़ मजबूत है. समाजवादी पार्टी का इसी तरह का मामला चुनाव आयोग के सामने आया था और अगर उस फैसले को नजीर माने तो जेडीयू पर नीतीश का कब्जा तय माना जा रहा है.

(न्यूज 18 से अरुण सिंह की रिपोर्ट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi