S M L

टकराव का माहौल, सकारात्मक मानसिकता से करना होगा काम: नीतीश

उन्होंने कहा कि विकास का मतलब सिर्फ इनफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण नहीं होता बल्कि सामाजिक उत्थान भी होता है

Updated On: Apr 21, 2018 05:50 PM IST

Bhasha

0
टकराव का माहौल, सकारात्मक मानसिकता से करना होगा काम: नीतीश

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि आज देश-दुनिया में तनाव और टकराव का माहौल बना हुआ है. हम लोगों को इससे निकलना होगा और सकारात्मक मानसिकता के साथ काम करना होगा.

पटना के तारा मंडल ऑडिटोरियम में दैनिक जागरण द्वारा दो दिवसीय ‘बिहार संवादी’ कार्यक्रम का उद्घाटन करते हुए नीतीश ने बिहार के पुरातात्विक अवशेषों और समृद्ध सांस्कृतिक संस्कृति का उल्लेख करते हुए कहा कि कुछ लोग लगे रहते हैं कि टकराव पैदा करो, झगडा लगाओ. झंझट और टकराव होगा जिससे तात्कालिक रूप से कुछ लोगों को लाभ मिल जाएगा लेकिन हम लोग तो पिछले 12 सालों से संघर्ष कर रहे हैं. काम करने के लिए संघर्ष कर रहे हैं और हम लोगों का प्रयास यही रहा है कि समाज में प्रेम और सद्भावना का माहौल हो.

नीतीश ने जागरण द्वारा शनिवार से शुरू इस दो दिवसीय ‘बिहार संवादी’ कार्यकम में शामिल विषयों का जिक्र करते हुए कहा कि इसके साथ साथ समाज में कटुता का माहौल खत्म हो. तनाव का माहौल समाप्त हो. प्रेम, भाईचारा और सद्भावना का माहौल हो. न धार्मिक और न ही जातीय भेदभाव हो, हर प्रकार से सभी के बीच सदभावना का वातावरण हो.

नीतीश ने कहा कि संप्रदायिक सदभावना और सामाजिक सौहार्द हो, इसके लिए इस प्रकार का संवाद आयोजित कीजिए. नीतीश ने अपनी सरकार द्वारा पूर्ण शराबबंदी लागू किए जाने तथा बाल विवाह और दहेज प्रथा के खिलाफ उठाए गए कदमों का जिक्र करते हुए कहा कि अगर विकास को प्रभावी बनाना है तो समाज सुधार के लिए भी काम करना होगा.

नीतीश ने इस कार्यक्रम के साहित्यिक उत्सव के रूप में मनाए जाने का जिक्र करते हुए कहा कि उत्सव का मतलब खुशी है और खुशी तब आएगी जब तनाव और टकराव न हो, प्रेम का माहौल हो.

उन्होंने कहा कि विकास का मतलब सिर्फ इनफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण नहीं होता बल्कि सामाजिक उत्थान भी होता है. विकास का मतलब न्याय के साथ विकास, हर इलाके का विकास, हर समुदाय का विकास है. हम कुरीतियों को दूर करेंगे तो विकास प्रभावी होगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi