S M L

क्या मंगलवार को समाप्त हो जाएगा केजरीवाल का धरना-प्रदर्शन?

मंगलवार को अरविंद केजरीवाल और गोपाल राय के धरना का 9वां दिन है. अनशन पर बैठे दोनों नेताओं, मनीष सिसोदिया और सत्येंद्र जैन, की तबीयत खराब हो चुकी है.

Ravishankar Singh Ravishankar Singh Updated On: Jun 18, 2018 11:12 PM IST

0
क्या मंगलवार को समाप्त हो जाएगा केजरीवाल का धरना-प्रदर्शन?

दिल्ली में चल रहे राजनीतिक ड्रामे का अंत कब होगा इस रहस्य से अब भी पर्दा नहीं उठा है. सोमवार को पूरे दिन चले राजनीतिक घटनाक्रम के बाद लगने लगा था कि अरविंद केजरीवाल धरना समाप्त कर देंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. हालांकि केजरीवाल और उनके सहयोगी अब थोड़े नरम पड़ते जरूर दिख रहे हैं.

8 दिनों से अनशन पर बैठे डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया की तबीयत सोमवार को बिगड़ गई. उन्हें दिल्ली के लोक नायक जयप्रकाश अस्पताल ( एलएनजेपी ) में भर्ती कराया गया. फ़र्स्टपोस्ट हिंदी से बात करते हुए एलएनजेपी अस्पताल के मेडिकल डायरेक्टर जे सी पासी कहते हैं, ‘देखिए देर रात सत्येंद्र जैन को लाया गया था. सत्येंद्र जैन का कीटोन लेवल काफी बढ़ गया था. थोड़ी भी देरी होती तो उनके किडनी पर बुरा प्रभाव पड़ता. उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के साथ भी वही समस्या थी. सिसोदिया जी का भी कीटोन का लेवल 7.4 पार कर गया था. इसी के चलते उन्हें भी भर्ती कराया गया है. डॉक्टरों की एक टीम दोनों मंत्रियों के स्वास्थ्य की जांच कर रही है. मैं खुद उसको मॉनिटरिंग कर रहा हूं.’

इमरान हुसैन की बैठक में शामिल हुए अधिकारी

वहीं दूसरी तरफ दिल्ली के खाद्य और आपूर्ति मंत्री इमरान हुसैन द्वारा बुलाई गई बैठक में एक आईएएस अधिकारी मौजूद रहे. पूर्व मंत्री सौरभ भारद्वाज ने ट्वीट करते हुए कहा, 'मंत्री द्वारा एक ही दफ्तर में दो मीटिंग बुलाई गई थी. पर्यावरण सचिव ने मीटिंग में हिस्सा लिया लेकिन खाद्य सचिव ने मीटिंग का बहिष्कार किया.' सौरभ भारद्वाज ने सवाल करते हुए ट्वीट किया, 'यह कैसे हो सकता है कि एक आईएएस अधिकारी मंत्री से मिलने में असुरक्षित महसूस करता है जबकि दूसरा नहीं.'

सौरव भारद्वाज ने मीडिया से बात करते हुए कहा, ‘खाद्य सचिव ने अपने जूनियर सचिव को मीटिंग के लिए भेजा'. सौरभ का कहना था कि आखिर सुरक्षा का मुद्दा है तो जूनियर अधिकारी कैसे सुरक्षित महसूस कर रहे हैं? सौरभ भारद्वाज के कहने का मतलब था कि जब एक जूनियर अधिकारी डरा हुआ नहीं महसूस कर रहा है तो सीनियर अधिकारी क्यों डर रहे हैं?

क्या कहता है आईएएस एसोसिशन

अरविंद केजरीवाल के विरोध प्रदर्शन को देखते हुए आईएएस एसोसिएशन की हेड मनीषा सक्सेना ने भी मीडिया से बात करते हुए कहा, ‘हम लोग हड़ताल पर नहीं हैं. दिल्ली में आईएएस अधिकारी हड़ताल पर हैं, यह खबर बिल्कुल झूठी है. हम हर विभाग की बैठक में हिस्सा ले रहे हैं और अपना काम कर रहे हैं. कभी-कभी हम छुट्टी के दिन भी काम करते हैं.'

हाईकोर्ट से केजरीवाल को लगी फटकार

Delhi High Court

दिल्ली हाईकोर्ट

सोमवार को दिल्ली सरकार के धरने के खिलाफ दिल्ली हाईकोर्ट में दायर याचिका पर भी अरविंद केजरीवाल को जमकर फटकार लगी. दिल्ली हाईकोर्ट ने सवाल उठाते हुए कहा कि समझ में नहीं आ रहा है कि यह धरना है या फिर हड़ताल. दिल्ली हाईकोर्ट ने अरविंद केजरीवाल और उनके मंत्रियों के एलजी हाउस में बैठने की इजाजत पर भी सवाल पूछा. नेता प्रतिपक्ष विजेंद्र गुप्ता ने यह याचिका दायर की थी.

केजरीवाल पिछले 12 जून से ही धरने पर बैठे हैं. बीते रविवार को नीति आयोग की बैठक के दौरान देश के चार राज्यों के सीएम केजरीवाल के समर्थन में एकजुट हुए थे. इन सभी मुख्यमंत्रियों ने पीएम मोदी से मुलाकात की थी. इसके अलावा समाजवादी पार्टी के रामगोपाल यादव और लेफ्ट नेता डी. राजा ने एलएनजेपी अस्पताल जाकर मनीष सिसोदिया और सत्येंद्र जैन का हाल-चाल पूछा.

डी. राजा ने मीडिया से बात करते हुए कहा, ‘मैं मनीष सिसोदिया और सत्येंद्र जैन दोनों से मिला. वह दोनों मानसिक तौर से बहुत मजबूत हैं, क्योंकि यहां सवाल लोकतंत्र और उसके भविष्य का है. एक चुना हुआ मुख्यमंत्री और कैबिनेट मंत्री इंतजार कर रहे हैं और एलजी उन से मिलने के लिए एक मिनट का समय भी नहीं निकाल पा रहे हैं!’दिलचस्प ये है कि विपक्ष के नेतृत्व का दावा करने वाली कांग्रेस इस पूरे मामले से अपने आपको अलग रख रही है.

विपक्षियों की तरफ से मिल रहा है करारा जवाब

Kejriwal @ LG Office

आम आदमी पार्टी के बागी कपिल मिश्रा, बीजेपी के विजेंद्र गुप्ता और सांसद प्रवेश वर्मा और अकाली दल के विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा की तरफ से केजरीवाल को चुनौती मिल रही है. दिल्ली के पिछले विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी की एकतरफा जीत के बाद बीजेपी ने एमसीडी चुनाव जीत कर केजरीवाल को करारा जवाब दिया था. ऐसे में बीजेपी और आम आदमी पार्टी एक बार फिर से लोकसभा चुनाव को लेकर फिर से बड़ी लड़ाई की तैयारी कर रही हैं.

क्या मंगलवार को होगा अनशन का अंत!

मंगलवार को अरविंद केजरीवाल और गोपाल राय के धरना का भी 9वां दिन है. अनशन पर बैठे दोनों नेताओं, मनीष सिसोदिया और सत्येंद्र जैन, की तबीयत खराब हो चुकी है. ऐसे में यह कयास लगाए जा रहे हैं कि अरविंद केजरीवाल मंगलवार को कुछ बड़ा फैसला ले सकते हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi