S M L

कर्नाटक के इस शहर का बहुत 'एहसान' है गांधी परिवार पर!

साल 1977 में संसदीय चुनावों के हारने के बाद साल 1978 में इंदिरा गांधी विधानसभा उपचुनाव के अभियान के लिए बगलकोट आई थीं

FP Staff Updated On: Feb 23, 2018 06:22 PM IST

0
कर्नाटक के इस शहर का बहुत 'एहसान' है गांधी परिवार पर!

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी कर्नाटक विधानसभा चुनावों के मद्देनजर शनिवार से कर्नाटक के तीन दिवसीय दौरे पर होंगे. इस यात्रा के दौरान राहुल के उस शहर में जाने की भी उम्मीद है, जहां 40 साल पहले उनकी दादी इंदिरा गांधी गई थी. राहुल गांधी ने हाल ही में हैदराबाद-कर्नाटक क्षेत्र के 6 जिलों का दौरा किया है. शनिवार से वो मुंबई-कर्नाटक क्षेत्र का दौरा करने वाले हैं. इस दौरान रविवार को राहुल गांधी के बगलकोट शहर में भी जाने की उम्मीद की जा रही है.

साल 1977 में संसदीय चुनावों के हारने के बाद साल 1978 में इंदिरा गांधी विधानसभा उपचुनाव के अभियान के लिए बगलकोट आई थीं. स्थानीय लोग इमरजेंसी के दौरान उनकी सरकार द्वारा उठाए गए कदमों से नाराज थे और उन्होंने गांधी को सार्वजनिक बैठक के लिए जगह देने से इनकार कर दिया. अंत में 34 वर्षीय शिवाजी चौहान उनके बचाव में आगे आए. उन्होंने इंदिरा गांधी को अपनी कॉलोनी में बैठक आयोजित करने के लिए कहा और उनके लिए एक स्टेज भी बनाया. इसके अलावा जब पुलिस ने उन्हें सुरक्षा देने से इनकार कर दिया तो इस स्थानीय युवक ने गांधी को किसी भी हमले से बचाने के लिए खुद के स्तर पर उनके लिए सुरक्षा व्यवस्था की.

उस चुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार ने जीत दर्ज की थी. इसके बाद इंदिरा गांधी ने चौहान के परिवार को दिल्ली भोज के लिए आमंत्रित किया. वे दिल्ली गए और इंदिरा गांधी के साथ लंच किया. बाद में उन्होंने दावा किया कि इंदिरा गांधी ने उनके लिए दिल्ली के दर्शनीय स्थलों को देखने की व्यवस्था भी करवाई थी. अब 40 साल बीतने के बाद इंदिरा गांधी के पोते राहुल उसी जगह का दौरा करने जा रहे हैं. इससे बगलकोट में कौतुहल बना हुआ है.

अपने हैदराबाद-कर्नाटक दौरे पर जनता की प्रतिक्रिया से उत्साहित कांग्रेस पार्टी राहुल के मुंबई-कर्नाटक दौरे को भी सफल बनाने में लगी हुई है. पार्टी के शीर्ष नेताओं ने स्थानीय नेताओं से सभी जगहों पर राहुल गांधी का भव्य स्वागत करने के लिए कहा है.

बलगाम के सांब्रा एयरपोर्ट पर उतरने के बाद राहुल हेलिकॉप्टर से बेलगाम जिले के उत्तरी भाग में स्थित अटानी जाएंगे. यहां एक सार्वजनिक बैठक को संबोधित करने के बाद वो पड़ोसी क्षेत्रों बगलकोट और बीजापुर की यात्राएं करेंगे. अपने दौरे के तीसरे और अंतिम दिन राहुल हुबली-धारवाड़ क्षेत्रों की यात्राएं करेंगे.

(न्यूज़18 के लिए डी.पी सतीश की रिपोर्ट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi