S M L

कर्नाटक वापस लौटे येदियुरप्पा, बोले- हम अपने MLA इकट्ठा करते हैं तो कांग्रेस-JDS क्यों डरती है

कर्नाटक बीजेपी अध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि उनकी पार्टी का कोई भी सदस्य कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन सरकार को गिराने के किसी अभियान में शामिल नहीं है

Updated On: Jan 17, 2019 05:01 PM IST

FP Staff

0
कर्नाटक वापस लौटे येदियुरप्पा, बोले- हम अपने MLA इकट्ठा करते हैं तो कांग्रेस-JDS क्यों डरती है

बीजेपी का 'ऑपरेशन लोटस' लगता है अब फेल हो गया है. क्योंकि पिछले कुछ दिनों से अपने 104 विधायकों के साथ नई दिल्ली और गुरुग्राम में रह रहे कर्नाटक के बीजेपी अध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा अब वापस लौट गए हैं.

वापस लौटने के बाद येदियुरप्पा ने कहा कि उनकी पार्टी का कोई भी सदस्य कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन सरकार को गिराने के किसी अभियान में शामिल नहीं है. कर्नाटक में सत्तारूढ़ कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन और बीजेपी के बीच जारी शक्ति संघर्ष में दोनों ही पक्ष एक दूसरे पर विधायकों की खरीद-फरोख्त का आरोप लगा रहे हैं. पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, 'मुंबई में मौजूद गठबंधन के विधायकों से बीजेपी का कुछ लेना-देना नहीं है.'

उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस और जेडीएस अपने समूह को एकजुट रखने में अपनी 'विफलता और अक्षमता' को छिपाने के लिए उन पर दोष मढ़ने का प्रयास कर रहे हैं. उन्होंने कहा, कांग्रेस-जेडीएस विधायकों को लुभाने या किसी तरह के ऑपरेशन में बीजेपी की ओर से कोई भी शामिल नहीं है. येदियुरप्पा ने कहा कि हमने अपने सभी विधायकों को एक स्थान पर एकत्र कर पिछले-दो तीन दिनों में आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर चर्चा की. आज सभी वापस आ रहे हैं.

पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कांग्रेस नेताओं पर भी हमला बोला. उन्होंने कहा कि वे संविधान की बात कर रहे हैं, लेकिन सभी जानते हैं कि 1960 से वे इससे कैसे खिलवाड़ करते रहे हैं. उन्होंने कहा कि मैं यह नहीं समझ पा रहा कि अगर हम अपने विधायकों को इकट्ठा करते हैं तो उन्हें क्यों डर लगता है. कांग्रेस और जेडीएस में आंतरिक संघर्ष काबू से बाहर है. अपनी आंतरिक लड़ाई पर पर्दा डालने के लिए उन्हें बीजेपी पर दोष नहीं मढ़ना चाहिए. कांग्रेस-जेडीएस नेताओं द्वारा कुछ बीजेपी विधायकों के संपर्क में होने के दावे पर येदियुरप्पा ने कहा कि हम सब एकजुट हैं.

उन्होंने कहा, 'आप (कांग्रेस-जेडीएस) कहते हैं कि पांच विधायक आपके संपर्क में हैं तो उन्हें बुलाइए. मैं भी देखूं.' अगर आपके विधायक मुंबई और दिल्ली चले गए तो इसमें हम क्या करें? यह आपका (कांग्रेस-जेडीएस) दायित्व है कि आप अपने विधायकों को अक्षुण्ण रखें. साथ ही उन्होंने कहा कि कोई भी हमारे संपर्क में नहीं है. मैं आपको बता रहा हूं.

(भाषा से इनपुट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi