S M L

पीएम पर निशाना साधने के चक्कर में विरोधाभासों से भरे बयान दे रहे हैं राहुल गांधी

मंगलवार और बुधवार को दो दिनों में किसान कर्जमाफी को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष ने दो बार निशाना साधा और दोनों बार एक दूसरे से उलटी बात कह गए.

Updated On: Dec 19, 2018 03:41 PM IST

FP Staff

0
पीएम पर निशाना साधने के चक्कर में विरोधाभासों से भरे बयान दे रहे हैं राहुल गांधी

लोकसभा के पहले तीन महत्वपूर्ण राज्यों में चुनावी विजय हासिल करने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी उत्साह से भरे नजर आ रहे हैं. इस उत्साह में राहुल गांधी अपने हर बयान में पीएम नरेंद्र मोदी पर ही हमलावर नजर आ रहे हैं. मंगलवार और बुधवार को दो दिनों में किसान कर्जमाफी को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष ने दो बार निशाना साधा और दोनों बार एक दूसरे से उलटी बात कह गए.

मंगलवार को राहुल गांधी ने कहा, 'मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ में हमारी नई सरकारों को किसानों का कर्ज माफ करने में छह घंटे का वक्त भी नहीं लगा, लेकिन मोदीजी के पास साढ़े चार साल थे. उन्होंने देश के किसानों का एक रुपया भी माफ नहीं किया. जब तक देश के हर किसान का कर्ज माफ नहीं होता, हम मोदीजी को सोने नहीं देंगे. पूरा विपक्ष मिलकर उनसे किसानों का कर्ज माफ करवाकर रहेगा.

मंगलवार को जब राहुल बोल रहे थे तो किसान कर्जमाफी के फैसले पर अपनी पीठ थपथपा रहे थे और इसी बीच उन्होंने यह दावा भी कर दिया कि वो पीएम मोदी को तब तक सोने नहीं देंगे जब कि किसानों का कर्ज माफ नहीं करवा देंगे. इसके लिए वो अन्य विपक्षी पार्टियों के साथ दबाव बनाएंगे.

बुधवार को राहुल गांधी ने एक बार फिर पीएम पर निशाना साधा लेकिन मंगलवार को कही गई अपनी ही बात वो भूल गए. उन्होंने कहा, 'बीजेपी शासित गुजरात में 6.22 लाख बकाएदारों का बिजली का बिल और असम में आठ लाख किसानों का कर्ज माफ करने के फैसले पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने तंज कसा है. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि कांग्रेस गुजरात और असम के मुख्यमंत्रियों को गहरी नींद से जगाने में कामयाब रही है, लेकिन प्रधानमंत्री अभी भी सो रहे हैं. हम उन्हें भी जगाएंगे.

बुधवार को दिए बयान में राहुल गांधी एक दिन पहले कही गई अपनी बात से पलट गए. उन्होंने कहा कि पीएम सो रहे हैं, हम उन्हें जगाएंगे. दरअसल राहुल गांधी अपने ही बयानों में तय नहीं कर पा रहे हैं कि पीएम मोदी के लिए उन्हें क्या कहना है? आक्रमण के मुद्रा में वो ये भूल जा रहे हैं कि उनके बयानों में ही विरोधाभास झलक रहा है.

इसी बीच राहुल बुधवार को एक वायरल वीडियो की वजह से चर्चा में रहे. केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी का एक वीडियो शेयर किया जिसमें उन्हें पार्टी के कई नेता कुछ बातें बता रहे हैं. स्मृति ईरानी ने इस ट्वीट में लिखा कि अब तो सपने दिखाने के लिए भी ट्यूशन लेनी पड़ती है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi