S M L

हिंसा की कड़वाहट भुलाने के लिए विरोधियों को 'रसोगुल्ला' खिला रही है TMC

टीएमसी के विधायक नेपाल गोरूई नामांकन दाखिल करने बीडीओ कार्यालय आ रहे विरोधी पार्टियों के नेताओं का मिठाइयों, खाने के पैकेट से स्वागत कर रहे हैं

Updated On: Apr 07, 2018 06:12 PM IST

FP Staff

0
हिंसा की कड़वाहट भुलाने के लिए विरोधियों को 'रसोगुल्ला' खिला रही है TMC

पश्चिम बंगाल में आने वाले पंचायत चुनाव के मद्देनजर तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी)  अपने विरोधियों को रसोगुल्ला खिलाकर उनका मुंह मीठा करा रही हैं. बर्धमान में टीएमसी के विधायक ने ऐसा कर पिछले दिनों यहां हुई हिंसा और तनाव के माहौल में दोस्ती का अनोखा पैगाम दिया है.

असिस्टेंड लैब केमिस्ट और समाजसेवी नेपाल गोरूई नामांकन दाखिल करने बीडीओ कार्यालय आ रहे विरोधी पार्टियों के नेताओं का मिठाइयों, खाने के पैकेट से स्वागत कर रहे हैं.

इतना ही नहीं नाश्ता कराने के साथ वो उनके वहां से वापस लौटने के लिए गाड़ी का भी इंतजाम कर रहे हैं.

2016 में रैना विधानसभा सीट से चुनाव जीतने वाले गोरूई ने कहा, 'विपक्षी पार्टियों का आरोप है कि सत्ताधारी टीएमसी के कार्यकर्ता नामांकन प्रक्रिया के दौरान हिंसा और हंगामा खड़ा कर रहे हैं. यह सच नहीं है. विपक्ष के कुछ नेता हैं जो बिना बात के बखेड़ा खड़ा कर रहे हैं. मैं सबको यह संदेश देना चाहता हूं कि टीएमसी शांतिपूर्ण और निष्पक्ष चुनाव में यकीन रखती है इसलिए, मैंने यह निर्णय लिया है कि मैं अपने विरोधी दलों के नेताओं को उनका नामांकन दाखिल करने में मदद करूंगा. मुझे पक्का यकीन है कि चुनाव के नतीजे सबकुछ बता देंगे.

पिछले दिनों नामांकन दाखिल करने के दौरान हुगली और मुर्शिदाबाद जिले में सत्तारूढ़ टीएमसी और विपक्षी पार्टियों के कार्यकर्ताओं के बीच झड़प और हिंसा होने की खबरें आई थीं.

पश्चिम बंगाल के कई जिले पिछले दिनों हिंसा और आगजनी की चपेट में थे

पश्चिम बंगाल के कई जिले पिछले दिनों हिंसा और आगजनी की चपेट में थे

गोरूई ने कहा, 'शुक्रवार से ही हम बीजेपी, सीपीआई (एम) नेताओं को उनका नामांकन भरने में सहयोग कर रहे हैं. हमने उनके लिए गाड़ी से लेकर नाश्ता-पानी तक का इंतजाम किया है. मैं खुद भी यह काम कर रहा हूं. मैं मानता हूं कि पंचायत चुनाव सभी राजनेताओं के लिए परीक्षा की भांति है. इसे बिना किसी डर भाव के होना चाहिए. इसे एक पर्व के रूप में लिया जाना चाहिए. मुझे यकीन है कि दूसरे जिलों में भी मेरी पार्टी (टीएमसी) के कार्यकर्ता ऐसा ही करेंगे जिससे हमपर हिंसा फैलाने के लगे आरोप गलत साबित होंगे.'

विपक्षी पार्टियों के नेताओं ने गोरूई की इस पहल का स्वागत किया है. बीजेपी के नेता काशी बिस्वास और सीपीआई (एम) के वरिष्ठ नेता अमल हलदर ने इसके लिए गोरूई की तारीफ की.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi