S M L

पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनाव: नामांकन के दौरान हिंसा में एक की मौत

पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनावों के लिए नए सिरे से नामांकन दाखिल करने के मुद्दे पर बीरभूम जिले के सूरी में आज हिंसा भड़क गई जिसमें एक शख्स की मौत हो गई और कुछ अन्य घायल हो गए.

Bhasha Updated On: Apr 23, 2018 08:18 PM IST

0
पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनाव: नामांकन के दौरान हिंसा में एक की मौत

पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनावों के लिए नए सिरे से नामांकन दाखिल करने के मुद्दे पर बीरभूम जिले के सूरी में सोमवार को हिंसा भड़क गई जिसमें एक शख्स की मौत हो गई और कुछ अन्य घायल हो गए. सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस और बीजेपी दोनों ने दावा किया है कि मारा गया शख्स उनका कार्यकर्ता था. नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया सुबह 11 बजे शुरू हुई और अपराह्न तीन बजे समाप्त हो गई. कलकत्ता उच्च न्यायालय ने शुक्रवार को राज्य निर्वाचन आयोग (एसईसी) को नामांकन की तारीख आगे बढ़ाने का निर्देश दिया था.

एसईसी ने शनिवार को नई अधिसूचना जारी कर नामांकन के लिए 23 अप्रैल की तारीख का ऐलान किया था. पंचायत चुनाव तीन चरण में होंगे. विपक्षी दलों ने आरोप लगाया कि बीरभूम, मुर्शिदाबाद, माल्दा, बर्दवान, नदिया, उत्तरी 24 परगना और दक्षिण 24 परगना जिलों में हिंसा भड़क गई.

पुलिस के अनुसार बीरभूम जिले के सूरी में नामांकन दाखिल करने को लेकर भाजपा और तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हो गई. दोनों पक्षों की ओर से बम फेंके गए.

प्रदेश के शहरी विकास मंत्री फिरहाद हाकिम ने कहा कि बीरभूम में बीजेपी के लोगों ने तृणमूल कांग्रेस के एक कार्यकर्ता को मार दिया. उन्होंने आरोप लगाया, 'मृतक एस दिलदार तृणमूल कार्यकर्ता था. उसे बीजेपी द्वारा सुपारी देकर झारखंड से बुलाये गए लोगों ने मार दिया.'

दूसरी तरफ प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष ने दावा किया कि मारा गया शख्स उनकी पार्टी का था. उन्होंने कहा, 'जब तृणमूल कांग्रेस के गुंडों ने सूरी में बीजेपी कार्यकर्ताओं पर हमला किया तो हमारा एक पार्टी कार्यकर्ता मारा गया और कुछ अन्य घायल हो गए.' प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अधीर चौधरी ने दावा किया कि सत्तारूढ़ दल के लोग विधायकों और सांसदों पर भी हमले कर रहे हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
कोई तो जूनून चाहिए जिंदगी के वास्ते

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi