S M L

वसीम रिजवी बोले- हमने सपने में भगवान राम को रोते हुए देखा, मंदिर न बनने से थे निराश

रिजवी ने कहा, मंदिर न बनने से भगवान राम बहुत निराश हैं, इसलिए अयोध्या मामले का अब फैसला हो जाना चाहिए

Updated On: Sep 25, 2018 09:10 PM IST

FP Staff

0
वसीम रिजवी बोले- हमने सपने में भगवान राम को रोते हुए देखा, मंदिर न बनने से थे निराश

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई से पहले यूपी शिया सेन्ट्रल वक्फ बोर्ड के चेयरमैन सैयद वसीम रिजवी का अनोखा बयान आया है. उन्होंने कहा, 'बीती रात उनके सपने में भगवान राम आए थे और वह रो रहे थे.'

रिजवी ने कहा, 'मंदिर न बनने से भगवान राम बहुत निराश हैं, इसलिए अयोध्या मामले का अब फैसला हो जाना चाहिए.' उन्होंने कहा, भारत के कट्टरपंथी मुस्लिम पाक झंडे को इस्लाम का झंडा बताते हैं और उससे प्यार करते हैं, ऐसे लोग राम जन्मभूमि पर बाबरी पंजे जमाए हुए हैं.'

रिजवी ने कहा, 'अयोध्या श्री राम का जन्मस्थान है, मुस्लिमों के तीनों खलीफाओं का कब्रिस्तान नहीं है.' उन्होंने कहा, 'वहाबी मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने पाकिस्तान से पैसे लिए हैं और कांग्रेस की मदद से इसे उलझाया जा रहा है.'

रिजवी ने कहा, 'राम भक्तों के साथ-साथ भगवान राम खुद भी उदास हो गए हैं.' बता दें कि 28 सितंबर को इस बात पर फैसला आ सकता है कि अयोध्या केस से संबंधित एक पहलू को संवैधानिक बेंच भेजा जाए या नहीं. कोर्ट से फैसला आ सकता है कि मस्जिद में नमाज पढ़ना इस्लाम का आंतरिक हिस्सा है या नहीं है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi