S M L

लोकसभा चुनावों में हर ईवीएम के साथ इस्तेमाल होगी वीवीपीएटी मशीन: आयोग

चुनाव आयोग ने जब आश्वस्त कर दिया कि वीवीपीएटी मशीनें 100 फीसदी इस्तेमाल की जाएंगी तो पीठ ने याचिका खारिज कर दी

Updated On: Feb 05, 2019 10:33 PM IST

Bhasha

0
लोकसभा चुनावों में हर ईवीएम के साथ इस्तेमाल होगी वीवीपीएटी मशीन: आयोग

चुनाव आयोग ने मंगलवार को मद्रास हाईकोर्ट को बताया कि आगामी लोकसभा चुनावों में सभी इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) के साथ वोटर वेरिफाएबल पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपीएटी) मशीनें इस्तेमाल की जाएंगी.

आयोग के वकील निरंजन राजगोपाल ने न्यायमूर्ति एस मणिकुमार और न्यायमूर्ति सुब्रमण्यम प्रसाद की पीठ को यह बात उस जनहित याचिका के जवाब में बताई जिसमें चुनाव आयोग को आम चुनावों में हर संसदीय क्षेत्र में वीवीपीएटी मशीनों के इस्तेमाल का निर्देश देने की मांग की गई है.

चुनाव आयोग ने जब आश्वस्त कर दिया कि वीवीपीएटी मशीनें 100 फीसदी इस्तेमाल की जाएंगी तो पीठ ने याचिका खारिज कर दी.

याचिकाकर्ता एस पकियाराज ने कहा था कि ईवीएम से छेड़छाड़ की शिकायतें आती रही हैं और चुनाव आयोग ने चुनिंदा चुनाव क्षेत्रों में ही वीवीपीएटी का इस्तेमाल किया.

सोमवार को कई क्षेत्रीय और राष्ट्रीय पार्टी के नेता लोकसभा चुनाव में ईवीएम की विश्वसनीयता को लेकर मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा से मिलने पहुंचे. विपक्षी दलों ने विश्वसनीयता का हवाला देते हुए मुख्य चुनाव आयुक्त से ईवीएम मशीनों के मतों के 50 प्रतिशत VVPAT मशीनों की पर्ची से मिलान कराने की मांग की.

कांग्रेस के गुलाम नबी आजाद, मल्लिकार्जुन खड़गे और अहमद पटेल सहित अन्य विपक्षी दलों के नेताओं ने अरोड़ा को अपनी शिकायत और सुझाव का एक ज्ञापन सौंपा. इस पर लोकसभा और राज्यसभा में 23 विपक्षी दलों के नेताओं ने हस्ताक्षर कर आयोग से 50 प्रतिशत VVPAT की पर्चियों का ईवीएम के मतों से मिलान करने की साझा मांग की है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi