S M L

क्या वर्णिका कुंडू के पिता को अब सरकार से सजा मिली है?

वीरेंद्र कुंडू के तबादले को कांग्रेस बीजेपी के खिलाफ उतरने की सजा बता रही है

Updated On: Sep 13, 2017 01:39 PM IST

FP Staff

0
क्या वर्णिका कुंडू के पिता को अब सरकार से सजा मिली है?

सरकारी अधिकारियों का नेताओं के प्रभाव के चलते तबादला होना कोई नई बात नहीं है. कई बार ये तबादला सरकार बदलने पर एक साथ होता है, कई बार किसी अधिकारी को नेताजी को नाराज करने के बदले पनिशमेंट पोस्टिंग दे दी जाती है.

कुछ समय पहले हरियाणा में हुआ वर्णिका कुंडू और विकास बराला का मामला आपको याद ही होगा. हरियाणा बीजेपी के प्रमुख सुभाष बराला के बेटे विकास बराला ने चंडीगढ़ में वर्णिका का गाड़ी से पीछा किया था और और कथित तौर पर किडनैप करने की कोशिश की थी. वर्णिका के पिता वीरेंद्र कुंडू का हरियाणा सरकार ने एडिशनल चीफ सेक्रेट्री (पर्यटन) थे. अब उनका तबादला बतौर एडिशनल चीफ सेक्रेट्री (विज्ञान एवं तकनीक) कर दिया गया है. ये विभाग कम महत्वपूर्ण माना जाता है.

कुंडू के तबादले पर वरिष्ठ कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने ट्वीट किया, ‘अपनी बेटी वर्णिका कुंडू के न्याय के लिए बीजेपी के खिलाफ उतरने की अधिकारी को सजा दी गई हैं.’

वैसे इंडियन एक्सप्रेस को दिए गए बयान में कुंडू ने कहा, ‘यह सरकार पर निर्भर करता है कि मेरी क्षमताओं को देखते है मुझे कहां नियुक्त करती है. मुझे इसमें कोई दिक्कत नहीं है. मैंने कभी भी मेरे ट्रांसफर ऑर्डर रुकवाने की कोशिश नहीं की.’

गौर करने वाली बात ये भी है कि जिस दिन इस तबादले के ऑर्डर निकाले गए हैं, उसी दिन चंडीगढ़ की एक अदालत ने हरियाणा बीजेपी अध्यक्ष सुभाष बराला के बेटे विकास की जमानत याचिका खारिज कर दी है. वैसे हरियाणा सरकार ने इसके साथ ही 14 आईएस और 2 राज्य सेवा अधिकारियों के तबादले भी किए हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi