S M L

फतेहपुर में पीएम: यूपी में विकास का वनवास समाप्त होना चाहिए

भेदभाव है यूपी का सबसे बड़ा संकट

Updated On: Feb 19, 2017 04:57 PM IST

Bhasha

0
फतेहपुर में  पीएम: यूपी में विकास का वनवास समाप्त होना चाहिए

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उत्तर प्रदेश में भेदभाव को सबसे बडा संकट मानते हुए आज राज्य की सत्ताधारी सपा के अलावा कांग्रेस और बसपा पर जोरदार हमला बोला. मोदी ने ‘सबका साथ सबका विकास’ का मतलब समझाते हुए कहा कि सबको उसका हक मिलना चाहिए, चाहे वह किसी भी माता की कोख से पैदा हुआ हो. पीएम ने कहा कि यूपी विकास का वनवास खत्म होना चाहिए.

मोदी ने यहां एक चुनावी रैली में कहा, ‘उत्तर प्रदेश में भेदभाव सबसे बडा संकट है. अन्याय की जड़ों में भेदभाव है. जिसका भी हक है, उसे मिलना चाहिए चाहे वह किसी भी माता की कोख से पैदा हुआ है. सबको उसका हक मिलना चाहिए. यही है सबका साथ सबका विकास’.

उन्होंने कहा, ‘गांव में कब्रिस्तान बनता है तो श्मशान भी बनना चाहिए. रमजान में बिजली मिलती है तो दीवाली में भी मिलनी चाहिए. होली में बिजली मिलती है तो ईद पर भी मिलनी चाहिए. कोई भेदभाव नहीं होना चाहिए. सरकार का काम है भेदभाव मुक्त शासन चलाने का. किसी के साथ अन्याय नहीं होना चाहिए. धर्म और जाति के आधार पर बिल्कुल नहीं’.

मोदी ने प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर हमला बोलते हुए कहा कि सरकारी खजाने से अनाप शनाप धन लुटाकर टीवी और अखबारों में छाये रहने के प्रयास से कुछ नहीं होना वाला है क्योंकि ‘ये जनता है, सब कुछ जानती है. जनता बडी आसानी से दूध का दूध पानी का पानी कर देती है. अखिलेश के इरादे और नीयत साफ है या नहीं, नीतियां ठीक हैं या नहीं, प्राथमिकताएं उचित हैं या अनुचित .. ये जनता जनार्दन भलीभांति समझ लेती है’.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi