S M L

राज्य सभा उपसभापति पद के लिए वंदना चव्हाण होंगी विपक्ष का चेहरा!

राज्य सभा में उपसभापति पी जे कुरियन के कार्यकाल समाप्त होने के बाद से खाली हुई सीट पर 9 अगस्त को चुनाव होना है

FP Staff Updated On: Aug 07, 2018 04:01 PM IST

0
राज्य सभा उपसभापति पद के लिए वंदना चव्हाण होंगी विपक्ष का चेहरा!

राज्य सभा में उपसभापति पी.जे कुरियन का कार्यकाल समाप्त होने के बाद से खाली हुई सीट पर 9 अगस्त को चुनाव होना है. ऐसे में बीजेपी के बाद अब विपक्षी दलों ने भी अपना उम्मीदवार घोषित कर दिया है. खबर आ रही थी कि महाराष्ट्र की राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की नेता वंदना चव्हाण को विपक्ष ने अपना चेहरा बना कर पेश किया है. हालांकि वंदना चव्हाण ने साफ इनकार कर दिया है. उन्होंने कहा, 'मुझे बहुत खुशी होगी अगर किसी महिला को राज्य सभा का उपसभापति चुना जाता है लेकिन अभी कोई फैसला नहीं हुआ है. विपक्ष की बैठक चल रही है. हमें इंतजार करना चाहिए.'

वंदना के पिता विजय राव माहिते को बेहद काबिल वकीलों में शुमार किया जाता था. उन्होंने कई बड़े क्रिमिनल लॉयर्स को अपने साथ ट्रेंड किया. वंदना के पति हेमंत चव्हाण भी बड़े वकील हैं.

राजनीतिक करियर

वंदना साल 1997-98 में पुणे शहर की मेयर रह चुकी हैं. उस दौरान वो ऑल इंडिया काउंसिल ऑफ मेयर्स की वाइस चेयरपर्सन भी रहीं. मेयर रहने के दौरान उन्हें अपनी पार्टी के भीतर से उठ रही विरोध की आवाजों के बावजूद बायो डायवर्सिटी पार्क बनाने का प्लान तैयार करवाया था. ऐसा माना जाता है कि राजनीति में उनके शुरुआती मार्गदर्शक सुरेश कलमाड़ी थे.

एनडीए प्रत्याशी हरिवंश पर गठबंधन में फूट

इससे पहले राज्यसभा के उपसभापति पद के प्रत्याशी के तौर जेडीयू के राज्यसभा सांसद हरिवंश के नाम पर सहयोगी दलों शिरोमणि अकाली दल और शिवसेना ने विरोध दर्ज कराया था. एनडीटीवी की वेबसाइट पर प्रकाशित एक खबर के मुताबिक लंबे समय से बीजेपी के सगयोगी अकाली दल को उम्मीद थी कि उम्मीदवार अकाली दल के नरेश गुजराल बनाए जाएंगे लेकिन ऐसा हुआ नहीं. बीजेपी ने जेडीयू के सांसद हरिवंश को उम्मीदवार बना दिया, जिससे अकालियों में नाराजगी हैं. अकाली दल के अलावा बिना सलाह-मशविरा किए उम्मीदवार तय कर देने को लेकर शिवसेना भी काफी नाराज है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi