S M L

यूपीः उपचुनाव नतीजों के बाद गोरखपुर DM समेत 37 अधिकारियों का तबादला

कासगंज हिंसा को लेकर फेसबुक पर टिप्पणी करने के बाद चर्चा में आए बरेली के डीएम राघवेंद्र विक्रम सिंह का भी तबादला कर दिया गया है

Updated On: Mar 17, 2018 11:46 AM IST

FP Staff

0
यूपीः उपचुनाव नतीजों के बाद गोरखपुर DM समेत 37 अधिकारियों का तबादला
Loading...

गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा उपचुनाव में मिली हार के बाद उत्तर प्रदेश की योगी सरकार एक्शन में आ गई है. हार के दो दिन बाद शुक्रवार को देर रात 37 अधिकारियों का ट्रांसफर कर दिया गया जिसमें गोरखपुर के डीएम भी शामिल हैं. 37 अधिकारियों में 16 जिलाधिकारी और वाराणसी सहित चार मंडलों के कमिश्नर शामिल हैं.

उपचुनाव की मतगणना के दौरान विवादों में आए गोरखपुर के डीएम राजीव रौतेला को भी सरकार ने हटा दिया है. रौतेला को देवीपाटन का कमिश्नर बनाया गया है. के विजयेंद्र पांडियन अब गोरखपुर के नए डीएम होंगे.

कासगंज हिंसा को लेकर फेसबुक पर टिप्पणी करने के बाद चर्चा में आए बरेली के डीएम राघवेंद्र विक्रम सिंह का भी तबादला कर दिया गया है. सिंह को अब कृषि उत्पादन शाखा का विशेष सचिव बनाया गया है.

इन अधिकारियों के हुए ट्रांसफर

वीरेंद्र कुमार सिंह जिलाधिकारी बरेली, डॉ. रमाकांत पाण्डेय को निदेशक राज्य कृषि उत्पादन मंदी, धीरज कुमार विशेष सचिव समाज कल्यान विभाग, डॉ अखिलेश कुमार मिश्रा डीएम पीलीभीत, शीतल वर्मा डीएम सीतापुर, सारिका मोइन विशेष सचिव सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग, भवानी सिंह खागारौत जिलाधिकारी बलिया, सुरेन्द्र विक्रम विशेष सचिव सिंचाई एवं जलसंसाधन विभाग, रमा शंकर मौर्या जिलाधिकारी हाथरस, अमित कुमार सिंह डीएम सोनभद्र राकेश कुमार मिश्रा डीएम बलरामपुर से हटाकर विशेष सचिव गन्ना संस्थान, नवनीत सिंह चहल डीएम चंदौली, हेमंत कुमार डीएम अमरोहा, प्रमोद कुमार उपाध्याय डीएम हापुड़, कृष्णा करुणेश डीएम बलरामपुर, प्रांजल यादव निदेशक प्रशिक्षण एवं सेवायोजन, राजेंद्र प्रसाद डीएम भदोही, विशाख जी डीएम चित्रकूट, शिवाकांत द्विवेदी दीएम आजमगढ़, चन्द्र भूषन सिंह डीएम अलीगढ, सौम्य अग्रवाल, उपाध्यक्ष कानपुर विकास प्राधिकरण, एसवीएस रंगाराव मंडलायुक्त आजमगढ़ और रणवीर प्रसाद को आयुक्त एवं निदेशक, उद्योग कानपुर से प्रभार से मुक्त किए गए हैं.

आजमगढ़ के मंडलायुक्त के रवीन्द्र नायक को आयुक्त एवं निदेशक उद्योग कानपुर बनाया गया है. चंद्रप्रकाश त्रिपाठी को मंडलायुक्त सहारनपुर बनाया गया है. दीपक अग्रवाल वाराणसी के नए मंडलायुक्त नियुक्त किए गए हैं. मुकुल सिंघला को अपर मुख्य सचिव आवास एवं शहरी विकास नियोजन विभाग के पदभार से मुक्त किया गया है.

अलोक टंडन अध्यक्ष एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी, नोएडा एवं प्रबंध निदेशक, नोएडा मेट्रो रेल कारपोरेशन गौतमबुद्धनगर के साथ ही स्थानिक आयुक्त, यूपी नई दिल्ली तथा मुख्य कार्यपालक अधिकारी ग्रेटर नोएडा, गौतमबुद्धनगर का अतिरिक्त पदभार दिया गया है.

नितिन रेशम गोंकर्ण को प्रमुख सचिव आवास एवं शहरी नियोजन की जिम्मेदारी दी गई है. राजेंद्र कुमार तिवारी को वाणिज्य कर एवं मनोरंजन कर विभाग के पदभार से मुक्त किया गया है. अनूप चंद्र पांडे अपर मुख्य सचिव अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास विभाग तथा एनआरआई विभाग का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है. अलोक सिन्हा अपर मुख्य सचिव वाणिज्य कर एवं मनोरंजन कर विभाग की जिम्मेदारी दी गई है. प्रतीक्षारत राजीव कपूर को अध्यक्ष पिकअप बनाया गया है.

गोरखपुर और फूलपुर में हुए लोकसभा उपचुनाव में बीजेपी को हार मिली थी. गोरखपुर सीट पर बीजेपी का लगभग तीन दशक से कब्जा था. इस सीट से सूबे के मुखिया पांच बार सांसद रह चुके हैं. ऐसे में गोरखपुर में मिली हार बीजेपी के लिए काफी अप्रत्याशित थी. फूलपुर सीट से केशव प्रसाद मौर्य को जीत मिली थी. 2014 लोकसभा चुनाव में पहली बार बीजेपी ने इस सीट को अपने नाम किया था.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi