S M L

उपेन्द्र कुशवाहा 2 बजे करेंगे बड़ा ऐलान, NDA की बैठक में शामिल होने से किया इनकार

कुशवाहा दो बजे एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे. ऐसी संभावना जताई जा रही है कि इसी पीसी में एनडीए से अलग होने का ऐलान कर सकते हैं

Updated On: Dec 10, 2018 10:51 AM IST

FP Staff

0
उपेन्द्र कुशवाहा 2 बजे करेंगे बड़ा ऐलान, NDA की बैठक में शामिल होने से किया इनकार

केंद्रीय मंत्री और आरएलएसपी अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा ने आज एनडीए की बैठक में शामिल होने से इनकार कर दिया है. न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा है कि वो आज होने वाली एनडीए के घटक दलों की बैठक में शामिल नहीं होंगे. इसके साथ ही बताया गया है कि वो दो बजे एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे. ऐसी संभावना जताई जा रही है कि इसी प्रेस कॉन्फ्रेंस में वो एनडीए से अलग होने का ऐलान कर सकते हैं.

इसके पहले उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा था कि केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर की तरफ से उन्हें एनडीए की बैठक में शामिल होने का न्योता मिला है. लेकिन वो इसमें शामिल होंगे या नहीं इस पर अभी तक विचार नहीं किया है.

उपेन्द्र कुशवाहा 2019 के लोकसभा चुनाव के मद्देनजर सीट बंटवारे के मसले पर काफी वक्त से बीजेपी से नाराज चल रहे हैं. पिछले काफी वक्त से कयास लगाए जा रहे हैं कि वो कभी भी एनडीए छोड़कर बिहार के महागठबंधन का हिस्सा हो सकते हैं.

पिछले दिनों मोतिहारी में चले पार्टी के तीन दिन के सम्मेलन के बाद भी उन्होंने संकेत दे दिए थे कि उनकी पार्टी अब एनडीए के साथ बस कुछ दिन की मेहमान है. वो लगातार बिहार की नीतीश सरकार पर हमले करते रहे हैं. हालांकि उनके एनडीए से अलग होने का मामला लंबे वक्त से खिंचता चला जा रहा है.

आरएलएसपी के दूसरे सांसद अरुण कुमार ने बीजेपी को समर्थन जारी रखने की बात की है. जहानाबाद से सांसद अरुण कुमार ने इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए कहा है कि उन्होंने उपेन्द्र कुशवाहा से काफी वक्त पहले ही अपने रास्ते अलग कर लिए थे. लेकिन लोकसभा में वो बीजेपी को अपना समर्थन जारी रखेंगे.

उधर आरएलएसपी के एक और सांसद रामकुमार शर्मा ने उपेन्द्र कुशवाहा के फैसले के साथ जाने की बात कही है. सीतामढ़ी से सांसद रामकुमार शर्मा ने कहा है कि वो एनडीए से अलग होने की बात से इत्तेफाक नहीं रखते लेकिन वो कुशवाहा के साथ हैं.

उधर आरएलएसपी के दोनों विधायक लल्लन पासवान और सुंधाशु शेखर बागी तेवर अपनाए हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक दोनों जेडीयू नेताओं के संपर्क में हैं. संभव है कि दोनों जेडीयू ज्वाइन कर लें.

उपेन्द्र कुशवाहा के बारे में कहा जा रहा है कि हो सकता है कि वो शरद यादव से हाथ मिला लें. वो लगातार शरद यादव के संपर्क में हैं. ऐसा हो सकता है कि उनकी पार्टी का शरद यादव के गुट के साथ विलय हो जाए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi