S M L

यूपी में चूका 'नंदी' का निशानाः कंट्रोल डैमेज में जुटी बीजेपी सरकार

बीजेपी मंत्री ने मुलायम सिंह यादव की तुलना रावण से और बीएसपी सुप्रीमो मायावती की तुलना शूर्पणखा से कर डाली

Updated On: Mar 05, 2018 08:53 PM IST

FP Staff

0
यूपी में चूका 'नंदी' का निशानाः कंट्रोल डैमेज में जुटी बीजेपी सरकार

उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री नंद कुमार गुप्ता 'नंदी' ने एक नया विवाद खड़ा कर दिया है. गुप्ता ने समाजवादी पार्टी के मुलायम सिंह यादव की तुलना रावण से और बीएसपी सुप्रीमो मायावती की तुलना शूर्पणखा से कर डाली. इलाहाबाद में एक सार्वजनिक सभा के दौरान उन्होंने ये तुलना की. इस दौरान यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद थे.

इलाहाबाद में एक सभा को संबोधित करते हुए नंद कुमार ने कहा, 'भगवान राम ने रावण से कहा था कि आप कलयुग में मुलायम के नाम से जाने जाएंगे और राज्य के मुख्यमंत्री बनेंगे.'

गुप्ता इतने पर ही नहीं रुके. उन्होंने आगे कहा कि जब कुंभकर्ण और मेघनाद ने भगवान राम से अपने भविष्य के बारे में पूछा तो उन्होंने बताया कि वे शिवपाल और अखिलेश बनेंगे. भगवान राम ने कहा कि मेघनाद आप राज्य की जनता को बेवकूफ बनाएंगे और लोगों को धोखा देकर मुख्यमंत्री बन जाएंगे.

मुलायम, मायावती से अरविंद केजरीवाल तक पर साधा निशाना

मंत्री की ये टिप्पणी केवल एसपी तक सीमित नहीं रही. उन्होंने आगे कहा कि जब शूर्पणखा दौड़ते हुए ये कहते हुए आई कि भगवान राम ने उसके परिवार को नष्ट कर दिया तो उन्होंने कहा कि वो कलयुग में मायावती के रूप में अयोध्या पर राज करेगी. लेकिन उसकी शादी नहीं होगी. गुप्ता ने कहा कि आधुनिक युग का 'ड्रामेबाज-धोखेबाज' मारीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल हैं.

मंत्री ने पीएम नरेंद्र मोदी को भगवान राम का अवतार बताया और कहा कि योगी आदित्यनाथ उनके हनुमान हैं. इस दौरान मुख्यमंत्री अपने मोबाइल में देखते हुए मुस्कुराते दिखे.

एसपी-बीएसपी ने किया बीजेपी मंत्री पर हमला, कहा इस्तीफा लें सीएम

मंत्री के इस बयान पर समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता ने कहा कि 'ऐसी टिप्पणियां बीजेपी के मंत्रियों की परवरिश और मानसिकता दिखाते हैं. कल ही उन्होंने एसपी और बीएसपी को सांप और नेवला कहा था. वे दलित और पिछड़ी जातियों का अपमान कर रहे हैं.'

वहीं बीएसपी ने मंत्री को कैबिनेट से बाहर करने की मांग की. बीएसपी प्रवक्ता उम्मीद सिंह ने कहा कि 'उन्होंने जो कहा उसके लिए उन्हें माफी मांगनी चाहिए. मैं मांग करता हूं कि बीजेपी उन्हें मंत्रिमंडल से बाहर निकाले. मायावती के खिलाफ इस टिप्पणी से बीजेपी को आने वाले उपचुनावों में भारी मुश्किल का सामना करना पड़ेगा.'

हालांकि सत्तारूढ़ पार्टी कार्रवाई करने की बजाय अपने मंत्री को बचाती दिखी. यूपी बीजेपी प्रवक्ता के मुताबिक शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा 'किसी भी व्यक्ति पर व्यक्तिगत हमला अस्वीकार्य है. लेकिन मुझे लगता है कि नंद कुमार ने पिछले 15 सालों की यूपी पॉलिटिक्स की प्रतीकात्मक छवि पेश करने की कोशिश की. वो एक राजनीतिक मंच था जहां नंद कुमार ने अपने विचार रखे. इस पर बिना मतलब के विवाद पैदा करने की कोशिश की जा रही है.'

(न्यूज 18 के लिए काज़ी फराज़ अहमद की रिपोर्ट) 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi