S M L

जनता ने मायावती को किसी भी सदन में जाने लायक नहीं छोड़ा: स्वामी प्रसाद मौर्य

मौर्य ने कहा कि चौबीस घंटे नोट गिनने वाली बसपा सुप्रीमो अब हार की समीक्षा बैठकें कर रही हैं

Bhasha Updated On: Apr 19, 2017 06:04 PM IST

0
जनता ने मायावती को किसी भी सदन में जाने लायक नहीं छोड़ा: स्वामी प्रसाद मौर्य

अपनी पूर्व पार्टी बहुजन समाज पार्टी पर निशाना साधते हुए उत्तर प्रदेश के श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने आज कहा कि बसपा सुप्रीमो को प्रदेश की जनता ने सही जगह पर पहुंचा दिया है और अब वह राज्यसभा या विधान परिषद में भी बैठने लायक नहीं बची हैं.
बसपा सुप्रीमो अपनी पार्टी की हार का ठीकरा कही भी फोड़ ले लेकिन अब कोई फायदा नही है, ‘अब पछताय होत क्या जब चिड़िया चुग गयी खेत.’
मायावती ने कांशीराम के विचारों की हत्या की
उन्होंने आरोप लगाया कि मायावती ने बाबा साहब अंबेडकर को नीलाम करते हुये कांशीराम के विचारों की हत्या की है.
उन्होंने कहा कि देश में प्रधानमंत्री मोदी और प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी के नेतृत्व में कम समय में जनहित को ध्यान में रखते हुये पार्टी ने अपने घोषणा पत्र के वायदों को पूरा करने का सफल प्रयास किया है.
मौर्य बुधवार को कानपुर के सर्किट हाउस में श्रम विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे.
उन्होंने कहा कि चौबीस घंटे नोट गिनने वाली बसपा सुप्रीमो अब हार की समीक्षा बैठकें कर रही हैं. जिसका कोई भी फायदा नही है. उन्हें जनता ने सही जगह पर पहुंचा दिया कि वह किसी भी सदन में जाने लायक नहीं बची है.
समाजवादी नाम की योजनाएं होंगी बंद
पूर्व की समाजवादी पार्टी की सरकार पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि समाजवादी नाम की सस्ती लोकप्रियता पाने के लिये पूर्व की सरकार ने जो भी योजनाएं शुरू की थीं, उन्हें बंद किया जाएगा.
इनके स्थान पर जनता से जुड़ी कल्याणकारी योजनाएं शुरू की जायेंगी. उन्होंने कहा कि श्रम विभाग द्वारा पूर्व की सरकार में जो साइकिलें बंटवाई गई थीं, उनकी भी जांच की जाएगी.
एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि पूर्व मंत्री आजम खान की रामपुर यूनिवर्सिटी की भी शिकायतें मिली हैं उनकी भी जांच करवाई जाएंगी.
मौर्य ने कहा कि बीजेपी के शासनकाल में स्कूली छात्राओं से लेकर घरेलू महिलाएं तक अपने को सुरक्षित महसूस कर रही हैं. समाजवादी सरकार के गुंडा राज में महिलायें मनचलों का शिकार हो जाया करती थीं लेकिन अब वह आजादी के साथ कहीं भी बेखौफ जा सकती है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
DRONACHARYA: योगेश्वर दत्त से सीखिए फितले दांव

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi