S M L

मायावती से जमीन पाने वालों ने लगाए भाई की कंपनियों में पैसे!

आयकर जांच में यह जानकारियां सामने आई हैं.

Updated On: Jan 31, 2017 11:38 AM IST

FP Staff

0
मायावती से जमीन पाने वालों ने लगाए भाई की कंपनियों में पैसे!

उत्तर प्रदेश में गरमाती चुनावी राजनीति के बीच बहुजन समाज पार्टी के लिए मुसीबत बढ़ती जा रही है.

सीएनएन न्यूज18 ने आयकर विभाग की जांच के विवरण के आधार पर खबर दी है कि बीएसपी सुप्रीमो मायावती के भाई आनंद कुमार पर इनकम टैक्स की जांच का शिकंजा कसता जा रहा है.

जमीन के बदले बिल्डरों ने कंपनियों में लगाए पैसे!

जांच में पता चला है कि आनंद कुमार कई कंपनियों के मालिक हैं. जांच के दौरान एक संदिग्ध और अजीब पैटर्न सामने आया है.

खबर में आईटी जांच के हवाले से कहा गया है कि उत्तर प्रदेश में जमीन आवंटन पाने वाले कई टॉप बिल्डरों ने आनंद कुमार की कंपनियों के शेयर खरीदे. यह जमीनें मायावती के शासनकाल में अलॉट की गईं. ऐसी 70 कंपनियां जांच के घेरे में हैं. जांच के मुताबिक इन कंपनियों में 1200 करोड़ रुपए से अधिक डाले गए हैं.

जांच के दौरान यह भी सामने आया कि आनंद कुमार की कई होटलों में सीधे या परोक्ष रूप से हिस्सेदारी है. इनमें मसूरी के होटल शिल्टॉन, ग्रेटर नोएडा के क्राउन प्लाजा, नोएडा के हयात रिेजेंसी, द्वारका और कौशाम्बी के रैडिसन ब्लू, साकेत के सिल्वर फर्न्स, गुड़गांव के होटल वेस्ट इन के अलावा मुंबई का भी एक होटल शामिल है.

अकूत संपत्ति का खुलासा

आयकर विभाग को 300 करोड़ रुपए से अधिक के फिक्स्ड डिपॉजिट की भी जानकारी मिली है. विभाग इनके स्रोत की जांच कर रहा है. साथ ही जांच के दौरान दिल्ली में सरदार पटेल मार्ग, हेली रोड और जोर बाग जैसी प्राइम लोकेशन पर फंड की प्रॉपर्टीज का भी खुलासा हुआ है.

आनंद कुमार और उनकी पत्नी विचित्रलता के खिलाफ आयकर विभाग की इनवेस्टिगेशन विंग ने आईटी एक्ट के सेक्शन 131 के तहत नोटिस जारी किया है. नोटिस 20 जनवरी को ही जारी किया गया था. विभाग ने दोनों से 30 जनवरी तक जवाब देने और सभी जरूरी दस्तावेज जमा करने के लिए कहा था. 65 अन्य लोगों को भी नोटिस या समन जारी किया गया है.

खाते से मिले थे 1.43 करोड़ रुपए

कुछ दिन पहले ही ईडी ने मायावती के भाई के अकाउंट में 1.43 करोड़ रुपए और बीएसपी से जुड़े एक खाते में 104 करोड़ रुपए जमा होने का पता लगाया था.

रिपोर्ट के मुताबिक, ये रुपए 8 नवंबर को नोटबंदी के बाद खातों में जमा किए गए. इस बात का भी शक जताया गया है कि बीएसपी और मायावती के भाई के खातों में हवाला लेनदेन के जरिए पैसा पहुंचा. हालांकि मायावती इसे पूरी तरह खारिज कर चुकी हैं और कहती हैं कि उनके भाई से मिली जानकारी के अनुसार जो भी राशि बैंकों में जमा कराई गई, उसमें नियमों का पूरा ध्यान रखा गया है.

एक टीवी चैनल की रिपोर्ट के अनुसार 2007 से 2014 के बीच आनंद कुमार की नेटवर्थ 7.5 करोड़ रुपए से बढ़कर 1,316 करोड़ रुपए हो गई थी. चैनल ने ये दावा इनकम टैक्स डिपार्टमेंट से मिली जानकारी के आधार पर किया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi