S M L

यूपी चुनाव 2017: अखिलेश के काम नहीं, कारनामे बोलते हैं- पीएम मोदी

यूपी के बदायूं में बीजेपी की परिवर्तन संकल्प रैली में पीएम ने राज्य सरकार पर जमकर निशाना साधा

Updated On: Feb 11, 2017 03:51 PM IST

FP Staff

0
यूपी चुनाव 2017: अखिलेश के काम नहीं, कारनामे बोलते हैं- पीएम मोदी

पीएम मोदी ने बदायूं में एक रैली को संबोधित करते हुए अखिलेश सरकार पर हमले किए. उन्होंने कहा कि अखिलेश सरकार के काम नहीं, कारनामे बोलते हैं.

पीएम मोदी ने आरोप लगाया कि वीवीआईपी जिला होने के बावजूद बदायूं जिले का विकास आज तक नहीं हो पाया है. विजय शंखनाद रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने बदायूं से सांसद धर्मेंद्र यादव पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा, ‘बदायूं के सांसद अखिलेश के कुनबे से ही आते हैं. यूपी में उनकी सरकार है, लेकिन उन्होंने बदायूं के 495 गांवों में बिजली पहुंचाने का काम नहीं किया.’

पीएम मोदी ने कहा, ‘केंद्र में सरकार बनने के बाद हमने बदायूं के 495 गांवों में बिजली के खंभे गड़वाने का काम किया. कुनबे वाले तो जीतकर जहां जाना था चले गए. उनको यहां के विकास से कोई लेना देना नहीं है.’

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हमने केंद्र में सरकार बनने के बाद संकल्प लिया था कि 1,000 दिनों के भीतर 18,000 गांवों में बिजली पहुंचाने का काम किया जाएगा. सरकार ने वह संकल्प पूरा किया है.

उन्होंने कहा कि बदायूं कभी मायावती का क्षेत्र रहा तो कभी मुलायम सिंह यादव का, लेकिन किसी को यहां के विकास से मतलब नहीं रहा. 2014 में हुए लोकसभा चुनाव के दौरान यहां आने का मौका नहीं मिला. यदि मौका मिला होता तो यहां भी परिवर्तन देखने को मिलता.

बदायूं में पीएम ने किसानों की हालत पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा ‘अगर सूबे में बीजेपी की सरकार बनती है तो मैं सबसे पहले किसानों के कर्ज माफ करवाउंगा. अखिलेश जी उत्तर दें या ना दें, लेकिन मुझे पता है यूपी की जनता अखिलेश जी को उत्तर देगी और बीजेपी को विजयी बनाएगी.’

बदायूं की 6 सीटों पर 15 फरवरी को मतदान होगा. पीएम ने बीजेपी की परिवर्तन संकल्प रैली में बोलते हुए कहा ‘हम किसानों के लिए फसल बीमा योजना लाए. देश आजाद होने के बाद ऐसा निर्णय कभी नहीं हुआ है. सिर्फ दो प्रतिशत प्रीमियम किसान को देना है बाकि सारा पैसा सरकार देगी. जहां बीजेपी की सरकारें हैं. वहां के किसानों से 50-60 प्रतिशत बीमा ले लिया गया है, लेकिन उत्तर प्रदेश में 15 प्रतिशत किसानों का भी बीमा नहीं लिया गया है.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi