Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

यूपी चुनाव 2017: अमित शाह के 'कसाब' वाले बयान पर भड़की कांग्रेस

अमित शाह के कसाब वाले बयान की कांग्रेस ने कड़ी आलोचना की है

FP Staff Updated On: Feb 23, 2017 11:46 AM IST

0
यूपी चुनाव 2017: अमित शाह के 'कसाब' वाले बयान पर भड़की कांग्रेस

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के कसाब वाले बयान पर कांग्रेस ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है. कांग्रेस से पार्टी के नेताओं ने कहा है कि ये बयान बीजेपी की सांप्रदायिक मानसिकता दिखाता है. बुधवार को अमित शाह ने कांग्रेस, सपा और बसपा के पहले कुछ अक्षरों को मिलाकर इसे 'कसाब' कहा था. अमित शाह ने कहा था कि यूपी से इस 'कसाब' को खत्म किया जाना चाहिए.

इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस के नेता प्रमोद तिवारी ने कहा, 'अमित शाह की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है, कसाब गुजरात के रास्ते ही भारत में घुसा था. कसाब से उनका कोई न कोई रिश्ता है. अमित शाह का जीवन अपराध से भरा है. बीजेपी को यूपी में 100 से अधिक सीटें नहीं मिलेंगी.'

कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, 'एक हारे हुए नेता की ऐसी ही सस्ती और छोटी भाषा हो सकती है.'

कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक सिंघवी ने संवाददाताओं से कहा कि शब्द संक्षेपण को खत्म किया जाना चाहिए और जिस तरीके से शाह ने कहा है वह बीजेपी की सांप्रदायिक मानसिकता को दर्शाता है जिसकी ‘कड़ी निंदा’ की जानी चाहिए.

उन्होंने कहा, ‘शब्द संक्षेपण को खत्म करने की जरूरत है. भाजपा की पिछड़ी सोच सामने आ रही है. यह पार्टी की सांप्रदायिक मानसिकता को दर्शाता है और वे हर चीज में विभाजनकारी बोलते हैं.’ कांग्रेस नेता ने कहा कि शाह का बयान चुनाव आदर्श संहिता का उल्लंघन है और ‘इसकी कड़ी निंदा’ करने की जरूरत है.

उन्होंने कहा, ‘यह कसाब का सवाल नहीं है. हर कोई जानता है कि वह अपराधी था. सवाल प्रतीकात्मक है और कांग्रेस, सपा, बसपा को लाकर इसे सांप्रदायिक बनाने का प्रयास है.’ सिंघवी ने कहा, ‘बीजेपी का वास्तविक चेहरा देख सकते हैं और वे बांटकर, डराकर और लोगों को धमकाकर वोट लेना चाहते हैं.’

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस, सपा और बसपा के लिए संक्षिप्त में ‘कसाब’ शब्द गढ़ते हुए कहा था कि, जब तक इनका खात्मा नहीं होगा, तब तक उत्तर प्रदेश का भला नहीं होने वाला.

उत्तर प्रदेश में चुनावी जनसभा में शाह ने कहा, ‘उत्तर प्रदेश की जनता इस बार के चुनाव में इस कसाब से मुक्ति पा ले. मैं फिर से बोलता हूं कि उत्तर प्रदेश जनता इस बार के चुनाव में इस 'कसाब' से मुक्ति पा ले.'

अमित शाह ने कहा, 'कसाब से मेरा मतलब ‘क’ से कांग्रेस, ‘स’ से सपा और ‘ब’ से बसपा है. इन तीनों पार्टियों से मुक्ति नहीं मिली तो उत्तर प्रदेश का भला नहीं होगा.’ शाह ने यहां एक जनसभा में कहा, ‘पूरे प्रदेश में भाजपा की आंधी है और हम पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने जा रहे हैं क्योंकि जनता समझ चुकी है कि राज्य को सपा और बसपा के 14 साल के शासन ने बर्बाद किया है.’

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
AUTO EXPO 2018: MARUTI SUZUKI की नई SWIFT का इंतजार हुआ खत्म

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi