S M L

ताजनगरी में गठबंधन का प्यार दिखाते अखिलेश-राहुल का रोड शो

अखिलेश और राहुल रोड शो के जरिए अपने वोटर्स से सीधा संवाद करेंगे

Updated On: Feb 03, 2017 01:28 PM IST

Amitesh Amitesh

0
ताजनगरी में गठबंधन का प्यार दिखाते अखिलेश-राहुल का रोड शो

अखिलेश यादव और राहुल गांधी की जोड़ी एक बार फिर से उत्तर प्रदेश की सड़कों पर एक साथ है. शुक्रवार को यूपी के लड़के ताज नगरी आगरा में साथ-साथ रोड शो कर रहे हैं.

पिछले रविवार को राजधानी लखनऊ में ज्वाइंट प्रेस कांफ्रेंस के बाद दोनों ने एक बड़ा रोड शो भी किया था. अब इस बार पश्चिमी यूपी के आगरा में साथ-साथ होंगे.

शुक्रवार को अखिलेश यादव और राहुल गांधी का रोड शो दोपहर बाद साढ़े तीन बजे से शुरू होगा. सबसे पहले आगरा के दयाल बाग कॉलेज पर अपने कार्यकर्ताओं को संबोधित करने के बाद रोड शो के लिए दोनों निकल पड़ेंगे. आगरा के एम जी रोड से होते हुए ये पूरा रोड शो गुजरेगा.

दयाल बाग कॉलेज का पूरा इलाका सत्संगियों का है, जहां राधास्वामी को मानने वाले सत्संगी रहते हैं. दयाल सिंह कॉलेज से होते हुए अखिलेश और राहुल का रोड शो भगवान टॉकिज क्रासिंग, दीवानी चौराहा होते हुए सुर सदन क्रासिंग पहुंचेगा. इसके बाद दोनों की जोड़ी अपने काफिले के साथ सेंट पीटर्स कॉलेज के इलाके में पहुंचेगी.

इसके बाद अखिलेश-राहुल वजीरपुर इलाके में पहुंचेंगे. वजीरपुर इलाका मुस्लिम बहुल इलाका है. लिहाजा इस इलाके से अखिलेश यादव और राहुल गांधी के रोड शो के जरिए सपा-कांग्रेस गठबंधन अल्पसंख्यक समाज के लोगों को अपने साथ लाने की पूरी कोशिश करेगा.

सपा-कांग्रेस के गठबंधन को भी बीजेपी के खिलाफ एक बड़ी ताकत के तौर पर पेश करने की कोशिश हो रही है. यही वजह है कि लाख विरोधों के बावजूद दोनों ने साथ होने का फैसला किया जिससे अल्पसंख्यक वोट बिखरने के बजाए उनके पाले में आ जाएं.

आगरा के वजीरपुर के बाद रोड शो हरिपर्वत क्रांसिंग और आगरा कॉलेज होते हुए छिपिटोला मोड़ पहुंचेगी. फिर आखिर में छिपिटोला चौराहा के पास रोड शो खत्म होगा.

सपा-कांग्रेस गठबंधन बनने के बाद से ही तय था कि अखिलेश यादव और राहुल गांधी एक साथ मंच साझा करेंगे. अब उनके साथ-साथ रोड शो के जरिए रणनीतिकार प्रशांत किशोर की कोशिश है कि ज्यादा तादाद में मतदाताओं के साथ इनका सीधा संवाद हो सके और गठबंधन के पक्ष में माहौल बनाया जा सके.

प्रशांत किशोर की तरफ से अखिलेश और राहुल की जोड़ी के लिए ही नया नारा बनाया गया है, 'यूपी को साथ पसंद है.' अब इस नारे को जमीनी हकीकत में तब्दील करने की पूरी कोशिश की जा रही है और इसके लिए रोड शो का सहारा लिया जा रहा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi