S M L

जब तक कुमारस्वामी सरकार को सत्ता से बेदखल नहीं कर देते, हम लड़ाई जारी रखेंगे: BJP

येदियुरप्पा ने कहा कि एक जिम्मेदार विपक्ष होने के नाते यह हमारा कर्तव्य है कि हम आपके राजनीतिक ड्रामे और अब तक किए गए आपके विकास कार्य को जनता के समक्ष रखें

Updated On: Nov 21, 2018 10:42 PM IST

Bhasha

0
जब तक कुमारस्वामी सरकार को सत्ता से बेदखल नहीं कर देते, हम लड़ाई जारी रखेंगे: BJP

कर्नाटक में कांग्रेस-जेडी(एस) गठबंधन सरकार के खिलाफ अपनी लड़ाई का बिगुल फूंकते हुए बीजेपी ने बुधवार को कहा कि कुमारस्वामी नीत सरकार को सत्ता से बेदखल करने और जनता को न्याय दिलाने तक यह लड़ाई जारी रहेगी. किसानों के मुद्दों पर कुमारस्वामी पर हमला बोलते हुए प्रदेश बीजेपी प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने दावा किया कि बीजेपी को सत्ता से दूर रखने के लिए जेडी(एस) का समर्थन करने के अपने फैसले पर कांग्रेस पछता रही है.

उन्होंने कहा कि 104 विधायक रखने वाली बीजेपी को आप हल्के में लेते हैं. येदियुरप्पा ने कहा कि एक जिम्मेदार विपक्ष होने के नाते यह हमारा कर्तव्य है कि हम आपके राजनीतिक ड्रामे और अब तक किए गए आपके विकास कार्य को जनता के समक्ष रखें.

उन्होंने यहां बेलगावी में एक विरोध रैली में कहा कि बीजेपी एक लाख से अधिक किसानों को लामबंद कर एक बड़ा आंदोलन करेगी. उन्होंने कहा, ‘पिछले पांच महीनों से हम चुप थे. लेकिन अब लोग तनिक भी बर्दाश्त करने को तैयार नहीं हैं.’ येदियुरप्पा ने कहा, ‘हमने आपको पर्याप्त समय दिया है.’

कई मोर्चों पर नाकाम रही है कांग्रेस

उन्होंने कहा कि कुमारस्वामी सरकार कई मोर्चे पर नाकाम रही है. हमारी लड़ाई आज से शुरू हो गई है. यह तब तक चलेगी, जब तक हम आपको सत्ता से बेदखल नहीं कर देते.

बेलगावी में किसान अपने बकाए की मांग करते हुए पिछले कुछ दिनों से प्रदर्शन कर रहे हैं. उन्होंने रविवार को अपना प्रदर्शन तेज करते हुए अनाज से भरे ट्रकों को सुवर्ण विधान सौध में जबरन घुसा दिया. उन्होंने मुख्यमंत्री की रैयतों से मुलाकात की निर्धारित यात्रा रद्द होने के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान ऐसा किया.

कुमारस्वामी ने विधान सौध में जबरन घुसने वालों को गुंडा कहते हुए उन्हें पूरे किसान समुदाय को अपमानित करने वाला बताया था. उन्होंने एक महिला किसान के खिलाफ भी टिप्पणी करते हुए बकाए के मुद्दे पर पिछले चार साल तक उसकी चुप्पी और उसकी खेतिहर पृष्ठभूमि पर सवाल उठाए थे. येदियुरप्पा ने इसे महिलाओं का अपमान करार दिया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi